दिल्ली का बुराड़ी कांड भला कौन भूल सकता है… एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत की मिस्ट्री हर दिन कोई नए ट्विस्ट के साथ सामने आ रहा है और साथ ही ऐसे खुलासे हो रहे हैं जो सनसनीखेज से कम नहीं हैं. क्या आप जानते हैं कि वास्तुशास्त्र के अनुसार किसी के आत्महत्या या अकाल मृत्यु के पीछे उसके घर का वास्तुदोष भी जिम्मेदार होता है.

आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन सत्य यही है कि जिस घर में आत्महत्या होती है उस घर में दो या दो से अधिक वास्तुदोष अवश्य मौजूद होते हैं – जिनमें से एक घर के ईशान कोण (उत्तर पूर्व) में होता है और दूसरा दोष नैऋत्य कोण (दक्षिण पश्चिम) में होता है.

इन दिशाओं में भूमिगत पानी की टंकी, कुआं, बोरवेल, बेसमेंट या किसी भी प्रकार से इस कोने का फर्श नीचा हो या घर के दक्षिण दिशा का दक्षिणी कोना या दक्षिण पश्चिम का दक्षिणी भाग का बढ़ा हुआ होना भी वास्तु के अनुसार बहुत बुरी तरह प्रभावित करता है.

• अगर आपके घर के पश्चिम नैऋत्य कोण में मुख्य द्वार है तो घर के पुरूष सदस्य द्वारा और यदि मुख्य द्वार दक्षिण नैऋत्य कोण में है तो उस घर की स्त्री द्वारा आत्महत्या करने की संभावना बनी रहती है.

• वहीं, वास्तुदोष घर के ईशान कोण में भी हो सकता है. ध्यान रहें अगर घर का यह कोना अंदर दब जाए, कट जाए, गोल हो जाए या फिर किसी कारण दक्षिण पूर्व की दीवार पूर्व की ओर आगे बढ़ जाए तो घर के पुरुष सदस्य द्वारा और अगर उत्तर पश्चिमी दीवार का उत्तरी भाग आगे बढ़ा हुआ हो तो स्त्री सदस्य आत्महत्या कर सकती है.

• यही नहीं, अगर आपके घर के दक्षिण नैऋत्य में मार्ग प्रहार हो यानी कि इस दिशा में कोई रास्ता आकर मिल रहा हो तब स्त्रियां और पश्चिम नैऋत्य में कोई मार्ग आकर घर के द्वार के पास मिल रहा हो तब पुरुष आत्महत्या जैसे खतरनाक कदम उठाते हैं.

• बताते चलें कि जमीन के पूर्व आग्नेय कोण को किसी भी चीज़ से भूलकर भी ढकना नहीं चाहिए अन्यथा पुरुषों में निराशा और आत्महत्या की भावना पनपने लगती है जबकि वायव्य ढका हुआ हो तब स्त्रियां निराश होकर इस तरह के कदम उठाती हैं.

इस तरह की घटना से बचने के लिए जरूरी है कि आप घर बनवाते समय वास्तु के इन दोषों को ध्यान में रखते हुए ही घर बनवाएं. वहीं, अगर आप घर किराये पर ले रहे हैं तो ध्यान रखें कि घर में ऐसे वास्तुदोष मौजूद ना हो.

साभार: वेद संसार 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।