भारतीय जनता पार्टी को छोड़कर सभी पार्टियों ने मुस्लिमों को हमेशा वोटबेंक की तरह इस्तेमाल किया,इसी नीति पर भारत का विभाजन किया गया,बंगलादेश के दोनो ओर असम और बंगाल मे उन्हे सुनियोजित तरीके से बसाया गया,ताकि इनके दम पर वे सत्ता पर आ सके,भले ही इसके लिये समाज मे दरार डालना पड़े  देशद्रोह करना पड़े चलेगा,मुस्लिम वोट के लालच मे सभी हद पार करने वाली ममता बनर्जी को कोर्ट ने जो झटका दिया है वो ये साबित करने के लिये पर्याप्त है की उनका समय अब बदल चुका है.

मां दुर्गा के विसर्जन मे टांग अड़ाकर उन्होने ये साबित कर दिया की विनाश काले विपरीत बुद्धि. ममता बनर्जी की ग्रहदशा बताती है कि उनका अच्छा समय खत्म हो गया है. कई सारे विवाद उनके सामने आएंगे और यदि वो इन विवादों को सुलझा नहीं पाईं तो उन्हे बड़ा राजनैतिक नुक्सान होगा,असम मे एनआरसी का लागू होना ममता बनर्जी के लिये तकलीफ का कारण हो गया क्योंकि उन्हे मालूम है की अगला नम्बर बंगाल का ही है,वैसे ममता बनर्जी बंगाल मे किसी को आने नही देना चाहती इसके लिये वे पूरे देश से भाजपा को ख़त्म करना चाहती है जबकि उनकी पार्टी का वचस्व बंगाल के अलावा और कही नही,आइये देखते है ममता के सितारे.

*ममता बनर्जी की पत्रिका*

ममता बनर्जी की पत्रिका मे शनि तथा गुरु ग्रह अपनी उच्च राशि मे है ममताजी को उच्च राशि के शनि की दशा चल रही है. इस दशा ने ही उन्हे दो बार बंगाल की सत्ता दिलाई.शनि की दशा के 19 साल मे से आखरी 9 साल किसी भी व्यक्ति के लिये कष्टप्रद होते है. खासकर तब जब उसने शनी के दशा के शुरुआती 10 साल मे विशेष उन्नति पाई हो. ममताजी वर्तमान शनि के आखरी 9 वर्षों के फेरे मे है,फरवरी 19 से उन्हे शनि मे सूर्य,चंद्र और मंगल का अंतर आयेगा जो निश्चित रुप से उनके लिये कष्टकारी होगा,इस दशा मे उनके हाथ से राज्य तो जायेगा ही वो भी मायावती बन जायेंगी.

*सूर्य से केतु का भ्रमण*-

फरवरी से राहु और केतु महाराज अपनी राशि बदलेंगे,सूर्य के ऊपर से शनि का भ्रमण उनकी प्रतिष्ठा को गिरायेगा,उनका राजनैतिक पतन हो सकता है,उन्हे राज्यदंड का सामना भी करना पड़ सकता है

*सूर्य से शनि का भ्रमण*

जब भी जन्म के सूर्य से गोचर के शनि का भ्रमण होता है वह समय किसी भी व्यक्ति के लिये अत्यंत कष्टकारी होता है. ममता की पत्रिका मे आने वाले दो वर्ष शनि का तथा उसके बाद डेढ़ वर्ष मे सूर्य से केतु का भ्रमण होगा. यह समय उन्हे न्यायालय, केन्द्र तथा राज्य की ओर से आनेवाले कई प्रकार के संकटों का रहेगा. उन्हे इस समय केन्द्र तथा न्यायालय के टकराव से बचना चाहिये आने वाला समय बंगाल की राजनीति तथा ममता के लिये ठीक नही.

*प.चंद्रशेखर नेमा"हिमांशु"

9893280184,7000460931

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।