कहते है जो ग्रह करते है वो बैरी(शत्रु)भी नही करता,सितारे कब क्या रंग दिखा दे ये कोई नही जानता.  तभी तो कोई गरीब चाय बेचने वाला इस देश का प्रधानमंत्री बन सकता है लेकिन जिसके घर मे प्रधानमंत्री ही उनके इशारे से बनते है. वे भी कभी प्रधानमंत्री नही बन पाते,कांग्रेस के दो युवा तुर्क राहुल गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया दोनो के पिता देश के  जाने माने घराने की शख्सियत रहे है,राज्य इनके पिता की किस्मत मे ही था.

*नीच के शनि की रुकावट*-राहुल गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया दोनो की पत्रिका मे काफी समानता है.

*दोनो का जन्म 1971 मे हुआ,दोनो की कुंडली मे नीच राशि का शनि विद्यमान है,नीच राशि का शनि,जो की पिता(सूर्य)का शत्रु होता है,ने दोनो के पिता को दुर्घटना मे उस समय ख़त्म किया जब ये बहुत शक्तिशाली स्थिति मे थे,उनका भविष्य बहुत उज्ज्वल था.

*पिता के जाने के बाद ही दोनो को राजनीति मे आना पड़ा.

*नीच राशि के शनि के प्रभाव के कारण ये दोनो प्रमुख पद से दूर रहे.

*नीच राशि का शनि अचानक राज्यभंग भी करता है,लेकिन पत्रिका मे शनि की शुभ स्थिति हो तब अचानक सत्ता के शिखर मे भी पहुंचा देता है.

*ज्योतिरादित्य सिंधिया शनि की दशा मे ही पिता की मृत्यु के बाद राजनीति मे आये,और मंत्री भी बने,परंतु मध्यप्रदेश चुनाव मे उन्हे किनारे करने की रणनीति बन रही है,अभी वे शनि की अंतिम दशा मे है.

*राहुल गांधी इस समय मंगल की अंतिम दशा मे है,इसके बाद उन्हे राहु की दशा 2019 मे लगेगी उनकी असली परीक्षा तब ही होगी.

*राहुल वर्तमान मे जन्म के तुला के गुरु के कारण इस समय थोड़े चर्चा मे चल रहे है,अक्टूबर के बाद यह गुरु उन्हे ज्यादा अच्छे परिणाम नही दे पायेगा,साथ ही फरवरी 2019 से राहु का मिथुन राशि मे भ्रमण उन्हे कोई बड़ा राज़नैतिक धोखा दे सकता है इस समय उन्हे गठबंधन की राजनीति मे बहुत सम्भलकर क़दम रखना पडॆगा,अन्यथा वे कही के नही रहेंगे.

*2019 उनके लिये एक बुरा स्वप्न हो सकता है इस समय उन्हे अपने सहयोगी दलों से अपनी छवि को बचाकर रखना चाहिये.

*ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी मध्यप्रदेश चुनाव मे अपने शत्रुवर्ग से विशेष सावधानी बरतना चाहिये.

*प.चंद्रशेखर नेमा"हिमांशु"*

9893280184,7000460931

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।