स्वीट कॉर्न यानि भुट्टा खाने में स्वादिष्ट होने के साथ-साथ सेहत के लिए काफी फायदेमंद भी होता है. मानसून के मौसम में अक्सर लोग सड़के किनारे बिकने वाला भुट्टा खाते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं यह आपकी सेहत के लिए कितना खतरनाक है. भले ही सड़क किनारे मिलने वाला भूने हुए भुट्‌टे की महक आपको अपनी ओर खींच लें लेकिन सेहत के लिहाज से इसका सेवन नहीं करना चाहिए. आज हम आपको ऐसे 5 कारण बताने जा रहे हैं, जिसकी वजन से आपको मानसून में सड़क किनारे मिलने वाला भुट्टा नहीं खाना चाहिए.

1. सड़क किनारे लगे भुट्टे पर मक्खियां भिन-भिनाती है, जिसके कारण भुट्टा में कई बैक्टीरिया और रोगाणु रह जाते है. ऐसे में इसका सेवन आपको गंभीर बीमारियों का शिकार बना सकता है. इसलिए उस इलाके से भुट्टा न खाएं, जहां गंदगी फैली हो.

2. मानसून में भुट्टा काफी बिकता है, जिसके कारण भुट्टे वाले बहुत ज्यादा व्यस्त रहते हैं. इसी कारण वह भुट्टे की साफ-सफाई पर भी ध्यान नहीं देत. इसके अलावा भुट्टा सेंकने के लिए जो बर्तन यूज होता है वह कोयले से ढंका जाता है, जोकि आपको कैंसर का शिकार बना सकता है.

3. भुट्टे वालों के पास हाथ धोने के लिए पुराने पानी की बोतल होती है, जोकि गंदा होता है. अधिकतर भुट्टे वाले अपने हाथ मिट्टी या पानी से साफ करते हैं, जोकि खतरनाक है. इसमें कई सूक्ष्मजीवी होते हैं, जोकि भुट्टे के जरिए आपके शरीर में जाकर आपको बीमार बना सकते हैं.

4. नींबू का रस और मसाला इसके टेस्ट को और बढ़ा देता है लेकिन भुट्टे वालों के पास यह चीजें काफी समय तक ऐसे ही पड़ी रहती है. पैसे बचाने के लिए अधिकतर लोग आपको गलत मसाला और नींबू का रस निचोड़ कर दे देते हैं, जोकि बीमारियों का कारण होता है.

5. भुट्टे दिनभर खुली हवा में रखे रहते हैं और सभी प्रकार के वायु प्रदूषकों के संपर्क में आते हैं. यही कण भुट्टे के साथ आपके शरीर के अंदर जाकर आपको बीमार कर देते हैं. इसलिए इस मौसम में बीमारी से बचने के लिए सड़क किनारे भुट्टों को अवॉइड करें.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।