नई दिल्ली.  भारत और पाकिस्तान की सेना इतिहास में पहली बार रूस में किसी संयुक्त सैन्याभ्यास में हिस्सा लेगी. शंघाई सहयोग संगठन (SCO) की तरह से यह युद्धाभ्यास का आयोजन रूस में इस महीने अगस्त या फिर सितंबर के शुरुआती महीने में किया जा सकता है. आतंकवाद के खिलाफ इस साझा सैन्य अभ्यास की रूपरेखा शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) ने तैयार की है. 

एससीओ चीन के प्रभाव वाली एक सुरक्षा संस्था है जिसे संयुक्त राष्ट्र संघ के सुरक्षा संगठन NATO (उत्तर अटलांटिक संधि संगठन) के जवाब में बनाया गया है. एससीओ के अधिकारियों के मुताबिक यह सैन्य युद्धाभ्यास रूस के उरल पहाड़ों पर आयोजित की जाएगी जिसमें शंघाई सहयोग संगठन के लगभग सभी सदस्य देश हिस्सा लेंगे. उन्होंने कहा, इस संयुक्त अभ्यास का मकसद क्षेत्र में शांति की स्थापना करना और आतंकवाद निरोधी कार्रवाई के लिए इस संगठन के 8 देशों के बीच एक-दूसरे का सहयोग करना है.

भारत और पाकिस्तान दोनों देश साल 2005 में इस संगठन के अस्थायी सदस्य बने थे और उन्हें पूर्णकालिक सदस्यता पिछले साल ही मिली है. चीन की मदद से एससीओ में पाकिस्तान को जगह मिलने के बाद रूस ने भारत को इसकी सदस्यता दिलाने का पुरजोर समर्थन किया था. एससीओ सदस्य देश अब दुनिया की कुल आबादी के 40 फीसदी हिस्से का प्रतिनिधित्व करते हैं जबकि पूरी दुनिया के जीडीपी का 20 फीसदी हिस्सा इस संगठन के सदस्यों देशों के पास है.

एससीओ सदस्य बनने के बाद भारत का मानना रहा है कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ने में वह इस पूरे क्षेत्र में सबसे महत्वपूर्ण रोल अदा कर सकता है. इस साल सितंबर महीने में भारत और चीन की सेना साझा सैन्य अभ्यास भी कर सकती है जो बीते साल डोकलाम में तनाव की वजह से रद्द कर दिया गया था.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।