लखनऊ. उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री और सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि वह 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ेंगे. कर्नाटक विधानसभा चुनावों के बाद 20 मई को यह भी स्‍पष्‍ट रूप से कहा था कि उनकी पार्टी (समाजवादी पार्टी) विपक्षी दलों के साथ मिलकर 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ेगी. उन्‍होंने उस दौरान इशारा भी किया था कि अगले पीएम नेता जी (मुलायम सिंह यादव) होंगे. उन्‍होंने कहा था कि विपक्षी दल मिलकर 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ेंगे और एक सर्वमान्‍य नेता इसका मुखिया होगा.

कैराना और नूरपुर उपचुनाव में ईवीएम और वीवीपैट मशीनें खराब होने पर भी मंगलवार को सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने निशाना साधा. उन्‍होंने कहा कि उपचुनावों में EVM और VVPAT मशीनों में खराबी की बहुत ज्यादा शिकायतें आईं. चुनाव आयोग का कहना है कि गर्मी की वजह से मशीनें ठीक तरीके से काम नहीं कर रही थीं. लेकिन, मेरा सवाल है कि केवल उन पोलिंग बूथों पर EVM मशीन काम नहीं कर रही थीं, जहां गठबंधन के वोट थे. 28 मई को कैराना और नूरपुर के अलावा देश के अलग-अलग हिस्सों में उपचुनाव हुए, लेकिन कहीं से भी मशीनों में खराबी की शिकायत नहीं आई.

अखिलेश यादव ने कहा हमें शक है कि एक रणनीति के तहत उन पोलिंग बूथों के मशीन खराब की गईं, जहां गठबंधन का जनाधार बहुत मजबूत था. लेकिन बीजेपी की यह रणनीति काम नहीं आने वाली है, क्योंकि बड़ी संख्या में मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है और हमारी जीत जरूर होगी'. अखिलेश यादव ने दूसरे राजनीतिक दलों से भी अपील की कि वे EVM मशीन की जगह बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग करें.

बता दें कि अखिलेश यादव 2019 के लोकसभा चुनाव के में अच्‍छे प्रदर्शन के लिए अपने परिवार को भी एकजुट करने में जुट गए हैं. पिछले दिनों उन्‍होंने इस बात के भी संकेत दिए थे कि उनके चाचा और सपा नेता शिवपाल यादव को 2019 लोकसभा चुनाव से पहले पार्टी का महासचिव बनाया जा सकता है. सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव के मुताबिक पार्टी के वरिष्‍ठ नेताओं में इसके लिए सहमति बन चकी है. सही मौका देखकर उनको पार्टी का महासचिव बनाया जा सकता है. यह भी तय माना जा रहा है कि बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और समाजवादी पार्टी (सपा) 2019 में लोकसभा चुनाव साथ मिलकर लड़ेंगी. गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में इनका गठबंधन दिख चुका है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. सरकार ने बनाया ऐसा कानून कि डर के मारे कंपनियों ने चुका दिए हजारों करोड़ रुपये

2. किशनगंगा हाइड्रो प्रोजेक्ट को लेकर पाकिस्तान को बड़ा झटका

3. सेंसेक्स में 318 अंकों की तेजी, निफ्टी भी ऊपर

4. जीएसटी से पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को काबू किया जा सकता: धर्मेंद्र प्रधान

5. गोपाल कृष्ण गोखले: वह महान राजनैतिक विचारक जिसके प्रभाव से हम आज भी मुक्त नहीं हैं

6. दुनिया का सफर पूरा कर गोवा पहुंचीं नौसेना की 6 जाबांज अफसर, रक्षा मंत्री ने किया स्वागत

7. 28 मई को होगी सुनंदा पुष्कर मामले की अगली सुनवाई

8. 30 मई से दो दिन की हड़ताल पर रहेंगे देश भर के बैंक कर्मचारी

9. इस वजह से देशभर में बंद हो गए 50 से अधिक विदेशी रेस्तरां

10. अंक ज्योतिष के अनुसार जानिए अपनी जिंदगी का गोल्डन टाइम…

11. त्रियुगीनारायण मंदिर में हुआ था शिव-पार्वती का विवाह, आज भी प्रज्वलित है मंडप की अग्नि

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।