जयपुर. भारतीय सेना ने रविवार को राजस्थान की रेतीली धरती पर एयर कैवलरी के कॉन्सेप्ट का परीक्षण करते हुए रविवार को युद्धाभ्यास किया. अमेरिकी सेना ने वियतनाम युद्ध के दौरान दुश्मन की जमीनी सेना के ठिकाने की पहचान करने और उसपर हमला करने के लिए इसी कॉन्सेप्ट का इस्तेमाल किया था.

बता दें किएयर कैवलरी कॉन्सेप्ट के तहत टैंकों और बख्तरबंद गाड़ियों के साथ लड़ाकू हेलिकॉप्टर पूरी तरह समन्वय में साथ काम करते हैं. भारतीय सेना ने भविष्य की जरूरतों को ध्यान में रखकर यह अभ्यास किया जिसमें लड़ाकू हेलिकॉप्टरों को हासिल कर अपनी हवाई युद्ध क्षमता को मजबूत करना है. भारतीय सेना के लिये यह एक नई अवधारणा है और इसका मकसद जमीन पर टैंकों के साथ हवाई समन्वय में दुश्मन के खिलाफ दोहरी आक्रामकता से प्रहार करना है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. भाषा के सन्दर्भ में फड़नवीस की अनूठी पहल

2. पीएम उद्घाटन करें या नहीं, 1 जून से जनता के लिए खोलें ईस्टर्न एक्सप्रेस वे- सुप्रीम कोर्ट

3. महंगा हुआ सोना, चांदी ने भी दिखाए तेवर

4. आधार की अनिवार्यता पर सुनवाई पूरी, सुप्रीम कोर्ट में फैसला सुरक्षित

5. अब ऑनलाइन ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के जरिये सुरक्षित होगा डेटा

6. ईरानी ने कहा मीडिया में कायदे कानून तय करने का समय

7. 150 अंक ऊपर खुलने के बाद 73 अंक गिरकर बंद हुआ शेयर बाजार

8. मोदी ने कहा नेपाल के साथ हमारे रिश्ते उच्च प्राथमिकता पर

9. BSNL यूजर्स के लिए बंद नहीं होगी फ्री में अनलिमिटेड कॉलिंग की सर्विस

10. बृहस्पति देव 10 मई 2018 की रात करेंगे 4 राशियों के भाग्य में प्रवेश, मिलेगी अपार खुशियां

11. मंगल की रात से पंचक, इन बातों का रखें ध्यान वरना भुगतना पड़ सकता खतरनाक परिणाम

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।