कानपुर. पिछले आठ महीनों से सौर्य ऊर्ज से चलने वाली फ्रिज बनाने का काम चल रहा था, जो अब सफल रहा. लेफ्टिनेंट कर्नल अशोक सिंह आईआईटी कानपुर में एम टेक कर रहे हैं. इस दौरान वह पिछले आठ महीने से इस प्रोजेक्ट पर लगे थे. इस फ्रिज की खासियत है कि ये देश के किसी भी दुर्गम इलाकों में भी इसका इस्तेमाल हो सकता है.

जम्मू-कश्मीर के निवासी लेफ्टिनेंट कर्नल अशोक सिंह चरक कानपुर आईआईटी में बीते साल से एम.टेक कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि बीते 8 माह से वह सौर्य ऊर्जा से चलने वाले रेफिज्रेटर को तैयार करने में लगे हैं. क्योंकि सेना के जवान कई बार लाइट न होने के चलते कई बार उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ता है. कई बार दूर के वीरान क्षेत्रों में कोल्ड चेन वाली दवाएं लेने के दूर जाना पड़ता है. कई बार तो जीवन रक्षक दवाएं टाइम से न मिलने के चलते सैनिकों की मौत हो जाती है. इसके साथ साथ खाने-पीने की वस्तुएं भी खराब हो जाती हैं.

लेफ्टिनेंट कर्नल ने बताया कि साधारण खोमचे में सोलर पैनल, बैटरी, डीसी करंट वाला कंप्रेसर, चार्ज कंट्रोल और एनर्जी मीटर लगाए गए हैं. साथ ही इसमें सोलर पैनल सेट किए गए हैं .इस बात का भी खास ध्यान रखा गया है कि रेफ्रिजरेटर पर जरा सी भी धूप न पड़े. उनके मुताबिक सौर ऊर्जा से 240 लीटर के रेफ्रिजरेटर से -12 डिग्री तक तापमान हासिल किया जा सकता है. साथ ही धूप से फुल चार्ज की गई बैटरी 20  घंटे से अधिक कार्य करेगी. बारिश या मौसम के अचानक खराब होने पर भी रेफ्रिजरेटर में कूलिंग की कोई प्रॉब्लम  नहीं होगी. 

लैब समन्वयक चंद्रशेखर गोस्वामी के मुताबिक इसकी टेस्टिंग अलग-अलग मौसमों में की जा चुकी है. अब इसको वेंडरों को देकर इसके बारे में रिजल्ट और फीडबैक लिया जाएगा. उन्होंने बताया कि इससे रोजगार भी बढ़ेगा क्योंकि ये फेरी वालो का जीवन बदल देगा .

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. बड़ा फैसला: केन्द्र ने मेघालय से पूरी तरह से हटाया अफस्पा तो अरुणाचल में दी ढील

2. पंजाब बोर्ड 12वीं का रिजल्ट घोषित, पूजा जोशी बनीं टॉपर, 65.97 फीसदी स्टूडेंट्स पास

3. बढ़त के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, इंडसइंड टॉप गेनरstrong>

5. भारत का इकलौता बच्चों के दिल का प्राइवेट अस्पताल, जहां कैश काउंटर ही नहीं है!

6. महाराष्ट्र और आंध्र में 31 मई और 21 जून को होंगे चुनाव

7. टाटा ग्रुप में ग्लोबल काॅरपोरेट हेड बनाये गये पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर

8. बांसवाड़ा में रामदेव बोले: इसी सदी में भारत आध्यात्मिक और आर्थिक महाशक्ति बनेगा!

9. जरूर जाएं अमृतधारा, नहीं करेगा वापस लौटने का मन

10. मिट्टी के कारण देखते ही देखते बदलने लगेगी आपकी किस्मत

11. कुछ बातों को ध्यान रख करना चाहिए शिवलिंग की परिक्रमा

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।