न्यूड योगा' लेटेस्ट फिटनेस ट्रेंड बन गया है. अक्टूबर महीने में तो इंस्टाग्राम पर तो लड़कियों ने अपनी न्यूड योगा कि इतनी तस्वीरें डालीं कि देखते ही देखते यह ट्रेंड तक बन गया. 

शरीर, मन और आत्मा को एक साथ लाने का, एक स्थान पर जोड़ने का नाम है ‘योग’. अपनी आत्मा को प्रभु से मिलाने का नाम है ‘योग’. योग एक ऐसी प्रक्रिया है जिसे प्राय: धार्मिक साधना का नाम मिला था लेकिन बाद में इसे तन एवं मन को पवित्र करने वाली साधना बनाया गया. और आज यह साधना शरीर और मन की चिकित्सा करने का पर्याय बन कर उभर रही है. 

नेकेड योगा में बिना कपड़ों के योगासन किये जाते हैं. वैसे तो लोग इसे कमरे में अकेले करते हैं, लेकिन उन लोगों की तादाद भी कम नहीं है जो प्रकृति के बीचों-बीच जाकर खुले में न्यूड योगा करते हैं.

ऐसा उन देशों में मुमकिन है जहां सोशल न्यूडिटी को मान्यता मिली हुई है.

किम कार्दशियन, जेनिफर एनिस्टन, मेगन फॉक्स जैसी हॉलीवुड की दिग्गज एक्ट्रेसेज अपनी खूबसूरती और फिटनेस बरकरार रखने के लिए न्यूड योगा करती हैं.

विशेषज्ञों का मानना है कि न्यूड योगा आपको अपने ही शरीर को देखने का सकारात्मक  नजरिया हासिल करने का मौका देता है. जब कोई एक सुरक्षित माहौल में बिना कपड़ों के योगासन करता है तब वह अपनी शारीरिक बनावट के गुण को समझ पाता है. ऐसा करने से धीरे-धीरे उसके मन से सारा संकोच खत्म हो जाता है.  

भारत ने बनाया

जिस योग को भारत ने बनाया, आज यह भारत के पड़ोसी देश ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में प्रसिद्ध है. लेकिन क्या आप योग के प्रकार जानते हैं? योग कई प्रकार के होते हैं, जिनमें सबसे प्रसिद्ध है मंत्रयोग, हठयोग, लययोग तथा राजयोग. इन सभी योग के अलग-अलग लाभ हैं, लेकिन वह तभी हासिल हो पाते हैं जब प्रत्येक योग के अंतर्गत आने वाले योग आसनों को सही रूप में किया जाए.

न्यूड योगा

इन सबसे अलग एक योग ऐसा भी है जिसने जन्म तो भारत में लिया लेकिन आज के दौर में यह पश्चिमी देशों में ही अपनी जगह बना पाया है. यह है न्यूड योगा, यानी कि निर्वस्त्र होकर बिना कपड़े पहने करने वाले योग आसन.

क्या है ये?

हम भारतीय इस योग को भोगियों की कामलीला की वजह बताते हैं लेकिन पाश्चात्य देशों ने इसके वैज्ञानिक प्रमाण देते हुए काफी महत्वपूर्ण बताया है. यदि ऐतिहासिक रूप से देखें तो नग्न होकर करने वाले योग को सबसे पहले नागा साधुओं द्वारा इस्तेमाल किया गया था.

नागा साधु करते थे

बिना किसी दुनियावी वस्तु (यानी कि वस्त्र) को धारण किए अपनी शारीरिक संरचना पर गर्व करते हुए, करने वाले इस योग को इन्हीं साधुओं ने उजागर किया था. लेकिन भारतीय संस्कृति के चलते धीरे-धीरे यह न्यूड योगा लुप्त हो गई.

लेकिन भारतीयों को नहीं पसंद

अब आप खुद ही सोचें, बिना कोई वस्त्र पहने हम किसी नवजात शिशु को या अपने ही छोटे बच्चे को देख भी लें तो इससे हमें कोई फर्क नहीं पड़ता. लेकिन स्वयं निर्वस्त्र होकर किसी के सामने जाना भारतीय संस्कृति को मानने वालों के लिए असंभव सी बात है.

पाश्चात्य देशों में है प्रचलित

परन्तु पश्चिमी देश के कई एक्सपर्ट्स का ऐसा मानना है कि हम वस्त्र धारण किए हुए जिस प्रकार से हम योग आसन करते हैं उससे बहुत अधिक लाभ हमें बिना वस्त्र पहने हुए किए गए आसनों से होता है. इन विशेषज्ञों का मानना है कि न्यूड योगा ना केवल शारीरिक लाभ देती है बल्कि आप विश्वास नहीं कर पाएंगे कि यह योग किस प्रकार से मानसिक लाभ भी प्रदान करता है.

विशेषज्ञों ने दिए कई प्रमाण

विशेषज्ञों की मानें तो दुनिया में सबसे खूबसूरत पल शायद वही था जब आप बिना किसी वस्तु एवं वस्त्र को धारण किए हुए इस दुनिया में आए था, यानी कि आपका जन्म हुआ था. और अब निर्वस्त्र होकर योग करने से आप वही भावना वापस पा सकते हैं जो जन्म लेने पर हुई थी.

क्या हैं वे फायदे?

निर्वस्त्र होने से आप अपनी शारीरिक संरचना को काफी करीब से समझ पाते हैं. कुछ लोग वस्त्रों को उतारना केवल संभोग की स्थिति में ही अपनाते हैं. जब अपने पार्टनर के करीब जाना हो तभी वे वस्त्रों को ना पहनने को सही मानते हैं. लेकिन सेक्स के अलावा न्यूड योगा में वस्त्र उतारने के क्या लाभ हैं यदि यह आप समझ जाएं तो आप स्वयं इसे करने के लिए तैयार हो सकते हैं.

पहली बार अजीब लगेगा लेकिन...

यह पहली बार में काफी अजीब लगेगा, लेकिन एक्सपर्ट्स की राय में एक-दो बार के बाद व्यक्ति स्वयं ही खुद को निर्वस्त्र देखने का आदी हो जाता है. साथ ही जो आनंद उसे निर्वस्त्र होकर योग करने से मिलता है वह स्वयं उसे पसंद करने लगता है.

पाश्चात्य देशों में न्यूड योगा क्लासेज

न्यूड योगा भारत में कहीं सामाजिक स्तर पर नहीं सिखाई जाती, लेकिन ऐसे लोग हैं जो इसके चिकित्सकीय फायदे समझते हुए इसे घर पर छिपकर करते हैं. लेकिन पाश्चय देशों में खासतौर से न्यूड योगा की क्लास होती हैं, जहां स्त्री, पुरुष अलग-अलग या एक ही स्थान पर भी न्यूड योगा करते हैं.

आत्मविश्वास आएगा

वहां के ट्रेनर्स का यह मानना है कि हो सकता है कि किसी को निर्वस्त्र होने से आपत्ति हो लेकिन बिना वस्त्र पहने ही वह अपने शरीर को समझ पाता है, अपने शरीर का एहसास कर पाता है. जिस शरीर को वह शायद पूर्ण आत्मविश्वास से अपना नहीं सकता, न्यूड योगा उसे अपने शरीर से प्यार करना सिखाता है.

वैज्ञानिक संदर्भ भी

वैज्ञानिक संदर्भ से वस्त्र पहनकर और बिना पहने योग करने के अलग-अलग फायदे हैं. हो सकता है कि वस्त्र पहनकर आप उतना आसानी से आसनों को ना कर सकें, लेकिन वस्त्र उतारकर आपको अपने योग और आपके बीच वस्त्रों जैसी कोई बाधा नहीं दिखाई देगी. आप निश्चिंत होकर योग कर सकते हैं.

दूसरा फायदा

दूसरा फायदा आप अपने शरीर से प्यार करने लगते है और उसे समझने लगते हैं. हिचकिचाहट को छोड़ आप खुद में एक नया आत्मविश्वास पाते हैं, जो तब तक बना रहता है जब आप योग नहीं भी कर रहे हों. न्यूड योगा का तीसरा सबसे बड़ा फायदा है प्रकृति से जुड़ना.

प्रकृति से जुड़ाव

यही कारण है कि इसका लाभ उठाने के लिए कुछ लोग खासतौर पर खुले में जाकर प्रकृति की गोद में इसे करना पसंद करते हैं. लेकिन केवल आसपास प्राकृतिक वस्तुएं होना ही पूर्ण प्रकृति नहीं है, आपकी शारीरिक संरचना भी प्रकृति का एक बड़ा हिस्सा है. इसलिए यह योग आपको उससे जोड़ता है.

खुद पर गर्व होगा

न्यूड योगा का अगला फायदा जानकर शायद आप मन ही मन मुस्कुरा भी दें. यह योग आपको खुद पर गर्व करना सिखाता है. आप पुरुष हैं या महिला, इससे आपको फर्क नहीं पड़ेगा. लेकिन धीरे-धीरे आप अपने अस्तित्व को अपनाने लगेंगे.

अपने अस्तित्व से प्यार करेंगे आप

आप खुद की शारीरिक संरचना पर गर्व करने लगेंगे और शायद यही खुशी हर एक इंसान को समझनी चाहिए जो समाज के स्त्री-पुरुष जंजाल में फंसा है. यह बातें सुनकर शायद आप विश्वास ना करें लेकिन जो इस योग को अपना चुके हैं वह इन तथ्यों का अर्थ अच्छे से समझते हैं.

एक और फायदा

अब न्यूड योगा का एक ऐसा फायदा उन लोगों को होता है जो वैवाहिक हैं या फिर जिनका पार्टनर है. विशेषज्ञों की राय में न्यूड योगा से इंसान संभोग जैसी चीज़ों से बचता है. यहां बचने से अर्थ पूर्ण रूप से सेक्स से छुटकारा पाना नहीं है. और वैसे भी कोई संभोग जैसी प्राकृतिक देन को क्यों नकारना चाहेगा.

सेक्स से आजादी?

यहां आजादी है सेक्स से जुड़ी व्यर्थ बातों से. लोगों को लगता है कि एक अच्छा संभोग उन्हें शांति देता है लेकिन न्यूड योग अपनाने वालों से यदि पूछें तो वे सेक्स की सफलता की आपको एक ऐसी परिभाषा तथा आनंद का तरीका व्यक्त करेंगे जिसे आपने कभी किताबों में भी पढ़ नहीं रखा होगा.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. आधार होगा और सुरक्षित, अब देनी होगी 'वर्चुअल आईडी'

2. भारतीय सेना ने 28 सैनिकों की शहादत पर 138 पाकिस्तानी सैनिक मारे

3. पहले IIT और अब CAT में 100 प्रतिशत नंबर ला कर हासिल किया पहला रैंक

4. यूपी के इस होटल में वेटर से लेकर मैनेजर तक सब होंगी महिलाएं

5. भगवान के दर्जे पर संकट में पेशा!

6. राजधानी एक्सप्रेस में बुजुर्ग को चूहे ने काटा, साढ़े तीन घंटे निकलता रहा खून

7. नहीं बंद होंगी मुफ्त बैंकिंग सेवाएं, सरकार ने खबरों का किया खंडन

8. CES 2018 : पहले दिन लॉन्च किए गए ये शानदार प्रोडक्ट्स

9. विक्रम भट्ट की हॉरर फिल्म के दौरान कैमरे में कैद हुआ भूत, तस्वीरें देखकर उड़ जाएंगे होश

10. हाइक ने लांच की Hike ID, बिना नंबर के भी कर सकेंगे चैट

11. राशि के अनुसार शादी की ड्रेसों का करें चयन, ग्रहों और रंगों का खुशियों से सीधा संबंध

12. पापों से मिलेगी मुक्ति,अगर करते हैं षट्तिला एकादशी का व्रत

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।