नई दिल्ली. 2019 लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटे समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गठबंधन और सीट शेयरिंग पर बातचीत को समय की बर्बादी बताते हुए कहा कि वह फिलहाल किसी भी पार्टी से गठबंधन के बारे में नहीं सोच रहे हैं.

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने कहा कि इस समय उनका पूरा ध्यान पार्टी को मजबूत करने पर केंद्रित है.

दरअसल, 2017 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ गठबंधन के बावजूद करारी शिकस्त का सामना कर चुकी समाजवादी पार्टी अब फूंक-फूंक कर कदम रख रही है.

6 जनवरी को अखिलेश यादव ने फूलपुर व गोरखपुर लोकसभा उपचुनाव के बहाने विपक्षी दलों को सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के खिलाफ लामबंद करने की कवायद शुरू की थी. लेकिन उन्हें बड़ा झटका तब लगा जब कोई भी विपक्षी पार्टी ने बैठक में शिरकत नहीं की.

अब न्यूज एजेंसी पीटीआई को दिये गये इंटरव्यू में अखिलेश ने कहा, '2019 का लोकसभा चुनाव निश्चित रूप से महत्वपूर्ण है. उत्तर प्रदेश के संदेश पूरे देश में जाएंगे. फिलहाल मैं किसी भी पार्टी से गठबंधन की बात नहीं सोच रहा हूं. यह (गठबंधन और सीटों पर बातचीत) समय की बर्बादी है और मैं भ्रम में नहीं रहना चाहता.'

अखिलेश ने कहा कि वह फिलहाल पार्टी को मजबूत करने में जुटे हैं. उन्होंने भविष्य में गठबंधन के सवाल पर कहा कि समाजवादी पार्टी की राजनीतिक शैली अलग है और एक समान विचारधारा वाली पार्टियों से 'दोस्ती' के लिए हमेशा तैयार है.

आपको बता दें कि 2017 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस के साथ गठबंधन किया था. 403 सीटों में गठबंधन मात्र 47 और कांग्रेस 7 सीटों पर सिमट गई थी. वहीं बीजेपी गठबंधन ने 325 सीटों पर बड़ी जीत हासिल की थी.

अखिलेश ने 2017 विधानसभा चुनाव में हार की चर्चा करते हुए कहा कि बीजेपी लोगों को गुमराह करने में कामयाब रही. हमने अपने कार्यकाल में विकास के एजेंडे पर काम किया.

उन्होंने कहा, 'हमारा वोटबैंक नहीं बल्कि बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) का जनाधार कमजोर हुआ. हमारे कार्यकाल को लोग याद कर रहे हैं और सोच रहे हैं कि उनसे गलती हो गई.'

युवा नेता ने योगी आदित्यनाथ सरकार को आड़े हाथों लिया. उन्होंने कहा सरकार वायदे पूरा करने में अब तक विफल रही है.

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष ने कहा कि वह 2019 लोकसभा चुनाव के लिए हर एक सीट पर काम कर रहे हैं. साथ ही उन्होंने कहा मध्य प्रदेश, झारखंड व छत्तीसगढ़ में भी संगठन मजबूत है. उत्तराखंड व राजस्थान में भी संगठन काम कर रहा है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. नोटबंदी और जीएसटी देश के लिए 2 बड़े झटके, अर्थव्यवस्था को तबाह कर दिया : राहुल

2. श्रेयन और अंजलि बने ज़ी टीवी 'सारेगामापा लिटिल चैंप्स 2017' के विजेता

3. अनुच्छेद-35A पर सुनवाई 8 हफ्ते के लिए टली, सरकार ने कहा-नियुक्त किया वार्ताकार

4. जेएनयू व डीयू के कई प्रोफेसर यौन शोषण के आरोपी, फेसबुक पर जारी की सूची

5. सरकार ने करदाताओं को बड़ी राहत, GST रिटर्न दाखिल करने की अवधि बढ़ी

6. महिला हॉकी : एशिया कप में भारत ने चीन को दी मात

7. प्रदीप द्विवेदी: मुकद्दर का सिकंदर बन रहे हैं कांग्रेस नेता राहुल गांधी!

8. राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैंपियनशिप : मनोज कुमार और शिव थापा फाइनल में पहुंचे

9. चीन का नया प्लानः ब्रह्मपुत्र के पानी को मोड़ने के लिए बनाएगा हजारों किमी की सुरंग

10. राजस्थान : समाप्त हुआ भूमि समाधि लेने वाले किसानों का आंदोलन

11. अशोक वृक्ष को घर के उत्तर में लगाकर रोज करें जल अर्पित, पड़ेगा चमत्कारिक प्रभाव

12. महादशा से भविष्य में कब क्या होगा , इसका अनुमान भी आप भी लगा पाएंगे

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।