नई दिल्ली. जो लोग अगस्त-सितंबर की जीएसटी रिटर्न नहीं भर पाए उन्हें सरकार ने राहत देते हुए लेट फीस माफ कर दी है. उक्त जानकारी वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को ट्वीट करके दी. साथ ही जिन लोगों ने लेट फीस के साथ जीएसटी रिटर्न दाखिल कर भी दिया है, उन्हें लेट फीस रिफंड कर दी जाएगी. सरकार ने इससे पहले जुलाई के महीने में देर से जीएसटी रिटर्न भरने वालों की लेट फीस माफ कर दी थी. जुलाई में सरकार ने रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख को भी आगे बढ़े दिया था.

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को ट्वीट करते हुए लिखा- टैक्सपेयर्स की सुविधा के लिए अगस्त-सितंबर महीने में जीएसटी रिटर्न लेट से फाइल करने वालों की लेट फीस माफ की गई है, लेट फीस टैक्सपेयर्स के लेजर में क्रेडिट कर दी जाएगी. उल्लेखनीय है कि जीएसटी के कानून अनुसार अगर कोई टैक्सपेयर तय तिथि के बाद भी रिटर्न दाखिल नहीं करता तो उस 100 रुपये प्रतिदिन के हिसाब के जुर्माना लगता है. स्टेट जीएसटी में भी ऐसा ही प्रावधान है. केंद्रीय जीएसटी और राज्य जीएसटी, दोनों के तहत यह फीस भरनी होती है. इसके अलावा एसेसी से 200 रुपये प्रति दिन के हिसाब से पेनल्टी वसूलने का प्रावधान भी है. लेट फीस के साथ ही सालाना 18 फीसदी ब्याज भी भरना पड़ता है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. जीएसटी रिटर्न-व्यापारी बोले हमने भाजपा को वोट पाक को सुधरने और राम मंदिर बनाने दिए थे

2. कश्मीर को लेकर मोदी सरकार का बड़ा फैसला, सभी पक्षों से होगी बातचीत

3. भारतीय सेना दुनिया की सबसे ताकतवर सेनाओं में से एक: जनरल रावत

4. चार्जिंग के दौरान JioPhone में हुआ ब्लास्ट

5. सोना 200 रुपए लुढ़का, चांदी के दामों में तेजी

6. यूनिटेक प्रमोटर संजय चंद्रा को SC ने नहीं दी जमानत, कहा- पहले 1000 करोड़ जमा कराएं

7. गुजरात कैडर के राकेश अस्थाना होंगे CBI के नए स्पेशल डायरेक्टर

8. दक्षिण भारतीय अभिनेता विशाल के दफ्तर पर GST इंटेलिजेंस का छापा

9. फैशन डिजाइनिंग के लिए NIFT में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू, दिसंबर तक करें आवेदन

10. साईं बाबा के इस मंत्र की स्तुति से बन जाते हैं बिगड़े काम

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।