बहुत सी महिलाएं अपने बच्चों को स्तनपान नहीं करवा पाती. ऐसे में बच्चे और मां दोनों में ही कमजोरी रह जाती है और दोनों को ही कई तरह की बीमारियां होने का खतरा रहता है. अब ऐसी नई माताओं के लिए जो विभिन्न कारणों से अपने बच्चों को स्तनपान कराने में असमर्थ हैं, उनके लिए एक अच्छी खबर आई है.

आपने ब्लड बैंक, अंगदान बैंको के बारे में तो सुना होगा लेकिन क्या मिल्क बैंक के बारे में सुना है. जी हां, अब एक ऐसा बैंक खोला गया है जहां इंसानी दूध मौजूद होगा. यानी जो महिलाएं अपने बच्चों को स्तनपान नहीं करवा पाती, वे इस बैंक से दूध लेकर बच्चों को आसानी से मां का दूध दे सकती हैं.

यह एक गैर-लाभकारी संगठन ब्रेस्ट मिल्क फाउंडेशन (बीएमएफ) के सहयोग से फोर्टिस ला फेम (महिलाओं और बच्चों के लिए अस्पताल), रिचमंड रोड द्वारा संचालित किया जा रहा है.

अगर एक मां का अपना दूध बच्चे के लिए अनुपलब्ध या अपर्याप्त है, तो ये बैंक सर्वोत्तम विकल्प साबित हो सकता है. बच्चे को यहां का मिल्क देने के लिए पेस्टर्काइज्ड डोनर मैन्युअल डिब्ब (पीडीएचएम) का उपयोग करना है, जिसे इस बैंक द्वारा संग्रहीत और आपूर्ति की जाएगी.

हालांकि मानव दूध बैंक दुर्लभ हैं. अब तक केवल दिल्ली में इस तरह के एक बैंक देश में है. ला फेम दिल्ली और स्तन मिल्क फाउंडेशन के सह-संस्थापक निनाटोलॉजी के डॉ. रघुराम मल्लियाह ने कहा कि दिल्ली के मिल्क बैंक में 18 महीनों में हमारे पास लगभग 100 दाता मां और 750 लीटर दूध संसाधित हुआ है और सरकारी अस्पतालों सहित हमने 500 बच्चों के लिए दूध मुहैया करवाया है.

बेहतर जागरूकता के कारण टीम को बेंगलुरु में प्रतिक्रिया बहुत ज्यादा होगी. अनिका पराशर सीओओ फोर्टिस ला फेमे ने कहा, “आईटी शहर में अधिक क्षमता है और जब हम उचित आंकड़े इकट्ठा करते हैं, तो संख्या दिल्ली के आंकड़ों से अधिक हो सकती है. हम प्राप्तकर्ताओं, दाताओं, लैक्टेशन विशेषज्ञों और स्त्रीरोग विशेषज्ञों से प्रतिक्रिया प्राप्त करना शुरू कर चुके हैं. पहले से ही नई मांओं को बैंक के बारे में बताना शुरू कर दिया है.”

दाताओं और प्राप्तकर्ताओं के संबंध में बैंक सख्त दिशा निर्देशों का पालन करेगा. केवल अस्पतालों से आने वाले कॉल्स पर कार्रवाई करेंगे, न कि मां के. इसके अलावा, दाताओं के पास पंजीकरण करने के बाद बैंक को विभिन्न परीक्षणों से गुजरना पड़ेगा है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. PM मोदी ने कहा - रो-रो फेरी सर्विस अन्य राज्यों के लिए एक मॉडल प्रोजेक्ट

2. कर्नाटक सरकार ने टू व्हीलर पर दूसरी सवारी के बैठने पर लगाया बैन

3. त्योहारी मांग सुस्त रहने से सोने-चांदी की चमक में कमी

4. वसुंधरा सरकार के अध्यादेश पर बोले राहुल- मैडम ये 21वीं शताब्दी है, 1817 नहीं

5. PoK के कार्यकर्ता ने कहा- आतंकियों को ट्रेनिंग देती है पाक सेना

6. अमेरिका के पांच पूर्व राष्ट्रपतियों ने तूफान पीड़ितों की मदद के लिए हाथ बढ़ाया

7. कुमारी ने BJP के खिलाफ किया झंडा बुलंद, कहा- पार्टी किसी के बाप की नहीं

8. जापान में बारिश और तूफान के बीच मतदान, शिंजो एबी के जीत की संभावना

9. अतीत को भुलाकर जिंदगी दोबरा शरू करें, इन टिप्स के जरिये

10. अब होगा 25 अक्टूबर से शनि की स्थायी बैठक!

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।