हिंदू धर्म में किसी भी शुभ कार्य से पहले मुहूर्त देखने की परंपरा है. ऐसी मान्यता है कि शुभ मुहूर्त में किए गए कार्य अच्छे फल प्रदान करते हैं. मान्यता के अनुसार, यदि भूलवश कोई शुभ कार्य अशुभ मुहूर्त में हो जाए तो इसका विपरीत परिणाम होता है. हिंदू धर्म में राहुकाल को किसी भी शुभ कार्य के लिए अच्छा नहीं माना जाता. इसलिए किसी शुभ कार्य को करने से पहले राहुकाल पर जरूर विचार किया जाता है.

ज्योतिष के अनुसार, राहुकाल में शुरू किए गए किसी भी शुभ कार्य में हमेशा कोई न कोई विघ्न आता है. अगर इस समय में कोई व्यापार प्रारंभ किया गया हो तो वह घाटे में आकर बंद हो जाता है. इस काल में खरीदा गया कोई भी वाहन, मकान, जेवरात अन्य कोई भी वस्तु शुभ फलकारी नही होती. अत: किसी भी शुभ कार्य को करते समय राहुकाल पर अवश्य विचार कर लेना चाहिए.

प्रत्येक स्थान पर एवं ऋतुओं में अलग अलग समय पर सूर्योदय एवं सूर्यास्त होता हैं. अत: हर जगह पर राहुकाल का समय अलग-अलग होता हैं किंतु प्रत्येक वार पर इसके स्टैंडर्ड समय के अनुसार राहुकाल मान सकते हैं.

राहुकाल का स्टैंडर्ड समय

सोमवार को राहुकाल का स्टैंडर्ड समय सुबह 07:30 से 09 बजे तक माना गया है.

मंगलवार को दोपहर 03 से 04:30 बजे तक राहुकाल रहता है.

बुधवार को दोपहर 12 से 01:30 बजे तक का समय राहुकाल होता है.

गुरुवार को राहुकाल का स्टैंडर्ड समय दोपहर 01:30 से 03 बजे तक रहता है.

शुक्रवार को सुबह 10:30 से 12 बजे तक के समय का स्वामी राहु होता है.

शनिवार को सुबह 09 से 10:30 बजे तक राहुकाल होता है.

रविवार को राहुकाल का समय शाम 04:30 से 06 बजे तक रहता है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. बापू को चतुर बनिया कहने पर अमित शाह के खिलाफ राजनैतिक विवाद शुरु

2. अतीत के यादों में दफन हो जायेगी धनबाद-चंद्रपुरा रेललाईन, ट्रेनों का परिचालन होगा बंद

3. बढ़ती जनसंख्या से परेशान पाकिस्तान, तीन पुरूषों के 96 बच्चे

4. ममता की चेतावनी, कानून का उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्रवाई करेगी सरकार

5. तमिलनाडु में गर्भवती महिलाओं का रजिस्‍ट्रेशन होगा अनिवार्य

6. कर्नाटक में कांग्रेस सरकार ने बनाया किसान का मजाक, दिया 1 रुपये मुआवजा

7. कुमार विश्वास बोले - जो धान की कीमत दे न सका, वो जान की कीमत क्या जाने

8. दीपिका पादुकोण की जुड़वा तो नहीं है ये साउथ एक्ट्रेस

9. मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज को राज्यभंग का योग, शांति होगी

10. जानिये स्वर्ण मंदिर के अनसुने तथ्य

11. भगवान ऋण मुक्तेश्वर के पूजन से ही मनुष्य ॠणों से मुक्त हो जाता, देखें वीडियो

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।