नई दिल्ली. अगले महीने होने जा रहे राष्ट्रपति चुनाव के लिए एनडीए ने 72 साल के रामनाथ कोविंद को अपना उम्मीदवार घोषित किया है. राम नाथ कोविंद अभी बिहार के राज्यपाल हैं. कोविंद के नाम की घोषणा बीजेपी के राष्‍ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने की. बीजेपी और एनडीए को उम्मीद है कि अनुसूचित जाति वर्ग से जुड़े होने के कारण कोविंद के नाम पर वो कांग्रेस सहित विपक्ष की सहमति भी हासिल करने में सफल रहेंगे.

भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने एक प्रेस काॅन्फ्रेंस करके यह जानकारी दी. शाह ने बताया कि 23 जून तक रामनाथ कोविंद नामांकन दाखिल कर सकते हैं. उन्होंने बताया कि सभी विपक्षी दलों को इसकी जानकारी दे दी गयी है.

इससे पहले, राष्ट्रपति पद का प्रत्याशी चुनने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठतम नेताओं से मुलाकात की. सत्तासीन दल के राष्ट्रपति उम्मीदवार के चयन पर केंद्रित बैठक में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, राजनाथ सिंह, अरुण जेटली, वेंकैया नायडू जैसे दिग्गज नेता मौजूद थे.

राष्ट्रपति चुनाव के लिए नॉमिनेशन दाखिल करने की अंतिम तारीख 28 जून है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 जून को अमेरिका रवाना हो रहे हैं. वह 27 जून तक विदेश यात्रा पर रहेंगे. प्रधानमंत्री चाहते थे कि उनकी मौजूदगी में ही राष्ट्रपति उम्मीदवार का नामांकन दाखिल हो जाये.

भाजपा ने तमाम विपक्षी नेताओं से इस बारे में बात कर ली है. भाजपा ने राष्ट्रपति के चयन में आम सहमति बनाने की कोशिश की. लेकिन, उम्मीदवार का नाम न बताने के कारण विपक्षी पार्टियों ने समर्थन का कोई आश्वासन नहीं दिया. वहीं, महाराष्ट्र में भाजपा की सहयोगी पार्टी शिव सेना अलग ही सुर अलाप रही है. रह-रह कर वह सरकार को राष्ट्रपति पद के लिए एक नाम सुझा देती है.

भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक से पहले सूत्रों ने बताया कि यह लगभग तय है कि किसी कुशल और अनुभवी राजनेता को ही देश के प्रथम नागरिक के पद पर बैठाया जायेगा. वेंकैया नायडू ने रविवार को ही कहा था कि सभी दलों के साथ बातचीत का दौर पूरा हो चुका है. अब संसदीय बोर्ड में संभावित उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा होगी. केंद्रीय मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी के नेता राम विलास पासवान से मुलाकात के बाद नायडू ने स्पष्ट किया कि राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी की घोषणा 23 जून से पहले कर दी जायेगी.

वेंकैया नायडू ने कहा कि उन्होंने अब तक के घटनाक्रम से पासवान को अवगत करा दिया है. पासवान ने साफ कर दिया है कि राष्ट्रपति चुनाव में वह सरकार के साथ हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो भी फैसला लेंगे, उन्हें मान्य होगा.

पासवान से मुलाकात के बाद नायडू ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से भी मुलाकात की. राजनाथ सिंह भी उस समिति के सदस्य हैं, जिसे राष्ट्रपति चुनाव में आम सहमति बनाने की जिम्मेवारी सौंपी गयी है. समिति के तीसरे सदस्य केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली हैं. पिछले दिनों राजनाथ सिंह अपने आवास पर गिर गये थे, जिससे उनके पैर में फ्रैक्चर आ गया. इसलिए नायडू ने उन्हें पूरी गतिविधियों की जानकारी दी.

इससे पहले नायडू ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को सहयोगी दलों के साथ-साथ विपक्षी दलों के साथ हुए विचार-विमर्श की विस्तार से जानकारी दी. ज्ञात हो कि नायडू ने समाजवादी पार्टी के सभी धड़ों से बात की. उन्होंने मुलायम सिंह यादव के साथ-साथ अखिलेश यादव से भी इस विषय पर चर्चा की. रामगोपाल यादव और नरेश अग्रवाल से फोन पर बात की.

सपा के सभी धड़ों ने कहा कि देश का राष्ट्रपति कोई राजनीतिक व्यक्ति ही होना चाहिए. तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी कहा है कि किसी वरिष्ठ राजनेता को ही राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया जाये. ममता ने तो प्रणब मुखर्जी को दूसरा कार्यकाल देने का भी विकल्प रखा है.

यहां बताना प्रासंगिक होगा कि वेंकैया नायडू और राजनाथ सिंह ने राष्ट्रपति चुनाव में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और अन्य कांग्रेस नेताअों के अलावा वामदलों के नेताअों से भी मुलाकात की. लेकिन, इसका कोई लाभ नहीं हुआ. कांग्रेस और वामदलों ने स्पष्ट कर दिया कि जब तक एनडीए प्रत्याशी का नाम नहीं बताता, इस विषय पर कोई भी बातचीत बेकार है.

भाकपा के राष्ट्रीय सचिव डी राजा ने कहा कि राष्ट्रपति उम्मीदवार के बारे में आम सहमति तैयार करने के मकसद से बनायी गयी समिति के सदस्य केन्द्रीय मंत्री राजनाथ सिंह एवं एम वेंकैया नायडू ने कोई नाम प्रस्तावित नहीं किया था. उन्होंने कहा,  अब उन्होंने आरएसएस पृष्ठभूमि वाले एक व्यक्ति का नाम घोषित कर दिया है. हम इसके विरूद्ध हैं किन्तु हमें भाकपा के भीतर तथा विपक्षी दलों के साथ इसपर विचार विमर्श करना होगा. इस बारे में जल्द ही एक बैठक होगी. 

राम नाथ ​कोविंद के नाम की घोषणा होने से पहले वेंकैया नायडू ने वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को उन्हें राजग उम्मीदवार बनाए जाने की जानकरी दी. पीएम मोदी ने इस बारे में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को जानकारी दी है. 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. बापू को चतुर बनिया कहने पर अमित शाह के खिलाफ राजनैतिक विवाद शुरु

2. अतीत के यादों में दफन हो जायेगी धनबाद-चंद्रपुरा रेललाईन, ट्रेनों का परिचालन होगा बंद

3. बढ़ती जनसंख्या से परेशान पाकिस्तान, तीन पुरूषों के 96 बच्चे

4. ममता की चेतावनी, कानून का उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्रवाई करेगी सरकार

5. तमिलनाडु में गर्भवती महिलाओं का रजिस्‍ट्रेशन होगा अनिवार्य

6. कर्नाटक में कांग्रेस सरकार ने बनाया किसान का मजाक, दिया 1 रुपये मुआवजा

7. कुमार विश्वास बोले - जो धान की कीमत दे न सका, वो जान की कीमत क्या जाने

8. दीपिका पादुकोण की जुड़वा तो नहीं है ये साउथ एक्ट्रेस

9. मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज को राज्यभंग का योग, शांति होगी

10. जानिये स्वर्ण मंदिर के अनसुने तथ्य

11. भगवान ऋण मुक्तेश्वर के पूजन से ही मनुष्य ॠणों से मुक्त हो जाता, देखें वीडियो

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।