नई दिल्ली. रैन्समवेयर वान्नाक्राई से दुनिया के 150 से ज्यादा देशों के कंप्यूटर सिस्टम्स में भले ही बाधा पड़ी हो, लेकिन भारत में बैंकों और एटीएम नेटवर्क पर कोई असर नहीं पड़ा है. ऐसा इसलिए नहीं है कि भारत की एटीएम नेटवर्क इतना मजबूत है कि रैन्समवेयर उसे भेद नहीं पाया. इसका कारण भारत के एटीएम नेटवर्क का 'आउटडेटेड' होना है. 

माना जा रहा है कि ग्लोबल बैंकों के मुकाबले आउटडेटेड सिस्टम्स पर काम करने के कारण भारतीय बैंकों और एटीएम के कामकाज में बाधा नहीं पड़ी. किसी बड़े बैंक और आरबीआई की तरफ से भी देश के फाइनैंशल सिस्टम में किसी गड़बड़ी की खबर नहीं आई. अटकलें लगाई जा रही थीं कि दक्षिण भारत में एक-दो छोटे बैंकों पर असर पड़ा होगा. वहीं सरकार ने सोमवार को कहा कि ग्लोबल रैन्समवेयर अटैक का भारत में कोई गंभीर असर नहीं पड़ा है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. गोपाल कृष्ण गोखले: वे विरोधियों को हराने में नहीं उन्हें जीतने में विश्वास करते थे

2. नई पॉलिसी की तैयारी में मोदी सरकार, जितने KM चलेंगे उतनी ही दूरी का देना होगा टोल टैक्स

3. योगी राज में कैसे होगी सुरक्षा जब खुद पिट रही पुलिस

4. SC में 'तीन तलाक' पर सुनवाई शुरू, कहा-अगर यह धर्म का मामला है तो कोर्ट दखल नहीं देगी

5. छत्तीसगढ़: BSF जवानों पर 40 नक्सलियों ने बोला हमला

6. 50 करोड़ न देने पर मायावती ने पार्टी से निकाला: नसीमुद्दीन

7. केजरीवाल की जगह उनकी पत्नी संभाल सकती हैं सीएम की गद्दी!

8. मजबूत रिश्तों को दिखाती है मेरी श्रीलंका यात्रा: मोदी

9. लालबत्ती नहीं हटाने के आरोप में इमाम बरकती के खिलाफ शिकायत दर्ज

10. Amazon दे रहा है iPhone 7 पर भारी छूट, जानें ऐसे और ऑफर

11. अर्धसैनिक बलों के जवानों की शहादत पर परिजनों को मिलेंगे एक करोड़ रुपये: राजनाथ

12. केवल दो मिनट में अपने से दुगुने पहलवान को इस लड़की ने कर दिया चित, देखें वीडियो!

13. फ़ोन पर कितने तरीके से बोला जाता है हेलो, देखें वीडियो

14. रास्ते चलते लोगों के पैर छूने पर लोग हो रहे शॉक्ड, देखें वीडियो

15. सूर्य की बारह भावों में स्थिति और उसका आप पर प्रभाव

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।