* प्रदीप द्विवेदी. जैसी कि आशंका थी... खबरें हैं कि, स्मार्ट फोन की तलवार से बचने के लिए बड़े मीडिया हाउस ने छोटे एडिशन बंद करना और कर्मचारियों की छंटनी करना शुरू कर दिया है! 

सवाल यह है कि क्या यही एक रास्ता है? रास्ते तो कई और भी हैं लेकिन उन पर प्रिंट मीडिया चलना चाहे तो? प्रिंट  मीडिया को मंदी की मार से बचाने के लिए जो रास्ते हैं वे न केवल प्रिंट मीडिया की साख बढ़ाएंगे बल्कि उसकी सत्ता भी कायम रखेंगे!

बीसवीं सदी में अखबार पढ़ लेने के बाद तीन गति थीं... पहली और सबसे सम्मानजनक कि... रीडर अखबार की उपयोगी कतरन संभाल के रखते थे ताकि वक्त जरूरत काम आए! दूसरी, रद्दी बेचने की और तीसरी क्रांतिवीर नाना ने कलमवाली बाई को समझाई थी!

अभी अखबार से रीडर क्या चाहता है? यदि इस पर ध्यान दिया जाए तो अखबार की लडख़ड़ाती पारी संभल सकती है! अखबार की साख और जरूरत फिर से बढ़ सकती है यदि कतरनवाली उपयोगी सामग्री अखबार में बढऩे लगे! इसका कोई एक मास्टर फार्मूला नहीं है क्योंकि हर जगह की सोच और जरूरतें अलग-अलग हैं!

एक रास्ता विदेशों में बहुत पहले से अपना लिया गया था और अघोषित रूप से भारत में कई छोटे अखबारों ने अपना रखा है, वह है... मुफ्त में अखबार! वहां सर्कूलेशन की सार ताकत विज्ञापन में लगाते हैं और सर्कूलेशन की... ऊंट के मुंह में जीरे की कमाई भूल जाते हैं!

भारत में घोषित रूप से पेड न्यूज का भारी विरोध है लेकिन सच्चाई सब जानते हैं! विज्ञापन भी एक तरह की पेड इंफोर्मेशन है... इसके स्वरूप को बदलने की जरूरत है जैसा कि घोषितरूप से टीवी चैनलवाले कर रहे हैं!

विदेशी बड़ी कंपनियां देश की छोटी कंपनियों से व्यापार में हिस्सेदारी करके लाभ कमा सकती हैं तो बड़े अखबार छोटे शहरों के स्थानीय अखबारों के साथ हिस्सेदारी क्यों नहीं कर सकते हैं? 

संपादकीय, सर्कूलेशन और विज्ञापन, तीनों में यदि बदले समय के मद्देनजर बदलाव किए जाएं तो कर्मचारियों की छंटनी और एडिशन बंद करने जैसी स्थिति नहीं बनेगी!

यदि आप मीडिया की मंदी से बाहर आना चाहते हैं तो हमें आपको सहयोग करके खुशी होगी,

संपर्क करें... व्हॉट्स एप नंबर...  7738945093 


Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।


आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए 2017 में कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. जीडीपी में गिरावट के संकेतः विकास दर का अनुमान 7.1%

2. मप्र की सांसद रीती पाठक मामले में अचानक तय हुई अंतिम सुनवाई

3. लड़की के साथ पुलिस के इस बर्ताव को देखकर हैरान रह जाएंगे आप

4. ट्रंप के महज एक ट्वीट से इस कंपनी को 8156 करोड़ रुपये का हुआ नुकसान

5. भाजपा पर बरसी शिवसेना, नोटबंदी के लिए जमकर कोसा

6. नेताजी तीन महीने के लिए सभी अधिकार हमें दे दें, बाद में सब आपका

7. अमेरिका ने ओसामा के बेटे को 'आतंकवादी' घोषित किया

8. ZTE ने Blade V8 Pro को किया लॉन्च

9. INDvsENG: वन-डे, T-20 के लिए विराट होंगे कप्तान, युवी की लंबे समय बाद वापसी

10. 3 नेपाली नागरिकों से 1 अरब रूपये के सोने के बिस्किट बरामद

11. सोशल मीडिया पर इस विधायक के बारे में वायरल हुई ये बात, दर्ज कराई FIR

12. कश्मीर घाटी में भारी बर्फबारी से सैलानी खुश लेकिन नेशनल हाइवे बंद

13. HP ने अपग्रेड की अपनी नोटबुक और लैपटॉप सीरीज

14. ओला की नई स्कीम, सिर्फ 30 रुपये में 4 किलोमीटर

15. नहीं रहे मशहूर अभिनेता ओम पुरी, दिल कौ दौरा पड़ने से हुआ निधन

************************************************************************************

बॉलीवुड      कारोबार      दुनिया      खेल      इन्फो     राशिफल     मोबाइल

************************************************************************************


पलपलइंडिया का ऐनडरोएड मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे.

खबरे पढने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने, ट्विटर और गूगल+ पर फालो भी कर सकते है.



अन्य जानकारियां :

सुरुचि: इस पेज पर कुकिंग और रेसेपी के बारे में रोज़ जानिए कुछ नया

तनमन: इस पेज पर जाने सेहतमंद रहने के तरीके और जानकारियां

शैली: यह पेज देगा स्टाइल और ब्यूटीटिप्स सहित लाइफस्टाइल को नया टच

मंगलपरिणय: इस पेज पर मिलेगी विवाह से जुड़ी हर वो जानकारी जिसे आप जानना चाहेंगी

आधी दुनिया: यह पेज साझा करता है महिलाओं की जिन्दगी के हर छुए-अनछुए पहलुओं को

यात्रा: इस पेज पर जानें देश-विदेश के पर्यटन स्थलों को

वास्तुशास्त्र: यह पेज देगा खुशहाल जिन्दगी की बेहद आसान टिप्स