नीमच,सिंगोली. बीते 2 मार्च को दिन दहाड़े गोली मारकर चुड़ी व्यवसायी महेश लक्षकार को घायल करने वाले शूटर मनोज मीणा और उसके एक अन्य साथी को अन्तत: पुलिस नें गिरफ्तार कर लिया।

सिंगोली थाना प्रभारी कमलेश सिंगार ने गोलीकाण्ड का पर्दाफाश करते हुए बताया कि रामगंजमंडी निवासी मनोज पिता बसंतीलाल मीणा ने अपने दोस्त सूरज धोबी के कहने पर ही चुड़ी व्यवसायी महेश लक्षकार को गोली मारी थी। सूरज धोबी फिलहाल एक हत्या के मामले मे झालावाड़ जेल में बंद है वहीं से उसने षडय़ंत्र रचकर वारदात को अंजाम दिया ।

सूरज धोबी का रामगंज मंडी निवासी जिस लड़की के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था उसी लड़की के साथ 10 मार्च को महेश की शादी होने वाली थी। शादी से इंकार करवाने के लिए सूरज ने महेश पर कई बार दबाव बनाया लेकिन लेकिन महेश नहीं माना तो उसने 2 मार्च को शूटर मनोज मीणा के सहयोग से उसी की दुकान पर दिन दहाड़े गोली मारदी। महेश भाग्यशाली था गोली पैरों को ही लगी। थाना प्रभारी ने विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि 25 फरवरी को झालावाड़ जेल मे बंद सूरज पिता बालचंद धोबी के इशारे पर आरोपी मनोज मीणा ने खैराबाद निवासी शाहरूख पिता आशिक, रावत भाटा निवासी गोटिया उर्फ पवन धोबी, और सिंगोली निवासी अकिल उर्फ टिंकू पिता अख्तर के साथ मिलकर रावतभाटा में षडय़ंत्र की रचना की। घटना वाले दिन महेश की रैकी करने का काम टिंकू को सौंपा गया। 2 मार्च को आरोपी मनोज मीणा अपने दोनो साथियों गोटिया और शाहरूख को लेकर सुबह करीब 9 बजे सिंगोली पहुंचा और टिंकू को रैकी करने को कहा। चुंकि तीनो लोग महेश को नहीं जानते थे। इस बीत आरोपी सुरज भी टिंकू के फोन से जुड़ गया। दस बजे करीब टिंकु ने हुलिया बताकर बाजार में महेश की पहचान करवा दी। मनोज मीणा उसी समय महेश को गोली मारना चाहता था लेकिन भीड़भाड़ मे पकड़े जाने के डर से इरादा बदल दिया गया।

सवा ग्यारह बजे करीब जैसे ही महेश अपनी दुकान पर बैठा आरोपी मनोज मीणा उसकी दुकान मे जा घुसा और दोनो हाथो से बारह बोर पिस्टल के ट्रेगर को दबाकर गोली दागदी।

बाद मे तीनों बदमाश मोटर सायकल से भाग गये। आरोपियों ने रास्ते मे पकड़े जाने के डर से पिस्टल को राजस्थान सीमा स्थित टाकरदा चौराहे पर पुलिया के नीचे दबा दिया और फरार हो गए।

घटना स्थल पर पहुंची पुलिस ने अज्ञात लोगो के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू की। जिला पुलिस अधीक्षक रूडोल्फ अल्वारेस, एएसपी पंकज पाण्डे और एसडीओपी डॉ. इन्द्रजीत बाकलवाल के निर्देशन पर थाना प्रभारी कमलेश सिंगार ने पुलिस दल गठित कर अलग अलग क्ष़ेत्रों में जांच के लिये भेजा। फोन कॉल डिटेल के आधार पर सबसे पहले सिंगोली निवासी अकील उर्फ टिंकू को भैंसरोडग़ढ़ राजस्थान के पास गिरफ्तार किया तथा उसके बताए अनुसार मुख्य आरोपी शूटर मनोज मीणा को रावतभाटा से गिरफ्तार किया तथा वारदात में शामिल पांच लोगों के खिलाफ धारा 307, 120 बी और 25 तथा 27 आम्र्स एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। फिलहाल दो आरोपी शाहरूख और गोटिया पुलिस की गिरफ्त से बचे हुए है। बताया जाता है कि इनके पकड़े जाने के बाद घटना से जुड़े कुछ राज और उजागर हो सकते है। पुलिस ने बताया कि वारदात के मुख्य षड्यंत्रकारी सूरज धोबी ने शामिल सभी लोगों को 20-20 हजार रूपए देने का वादा किया था। इसमें मनोज मीणा को तो यह रकम अदा कर दी गई थी। आरोपियों को गिरफ्तार करने में थानाधिकारी कमलेश सिंगार सहित ए एस आई आर के सिंगावत, विपिन मसीह, प्रधान आरक्षक रूघनाथ, मोहनलाल वर्मा और महेश परते तथा आरक्षक राजेश, सुभाष और मनोज की सराहनीय भूमिका रही।


************************************************************************************

बॉलीवुड       कारोबार        दुनिया       खेल        इन्फो      राशिफल

************************************************************************************



पलपलइंडिया का ऐनडरोएड मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे.

खबरे पढने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने, ट्विटर और गूगल+ पर फालो भी कर सकते है.


Comments-
0

अन्य जानकारियां :

सुरुचि: इस पेज पर कुकिंग और रेसेपी के बारे में रोज़ जानिए कुछ नया

तनमन: इस पेज पर जाने सेहतमंद रहने के तरीके और जानकारियां

शैली: यह पेज देगा स्टाइल और ब्यूटीटिप्स सहित लाइफस्टाइल को नया टच

मंगलपरिणय: इस पेज पर मिलेगी विवाह से जुड़ी हर वो जानकारी जिसे आप जानना चाहेंगी

आधी दुनिया: यह पेज साझा करता है महिलाओं की जिन्दगी के हर छुए-अनछुए पहलुओं को

यात्रा: इस पेज पर जानें देश-विदेश के पर्यटन स्थलों को

वास्तुशास्त्र: यह पेज देगा खुशहाल जिन्दगी की बेहद आसान टिप्स