सुरेश सन्नाटा पलपल इण्डिया ब्यूरो नीमच. 10 मार्च. मस्ती, हंसी, ठिठोली के इस मदमस्त मौसम ने रंगों की मस्ती के पहले पर्व होली, धुलेंडी की रंगारंग वेला का आनन्द उठा लिया है पर अब बारी है रंगपंचमी और रंगतेरस की जो अंचलवासियों के इंतजार की आतुरता में शुमार होकर आनन्द की अनुभूति के लिये बेताब है. 

बुधवार को रंग पंचमी का पर्व अंचल को रंगो की बौछार में भीगोकर यादगार स्मृतियां छोड़ेगा इसमें संदेह नही है. क्योंकी युवा पीढ़ी से लेकर उम्रदराज लोग भी इसके आनन्द में अपने को सरोबार करने से पिछे नही रहना चाहते है. वैसे तो यह समूचा माह पर्वों की छटा से सम्पन्न होकर शीतला सप्तमी से भी रूबरू करवाएगा. इस दिन अलसुबह घर-परिवार की महिलाएं शीतला पूजन कर घर-परिवार के लोगों के बेहतर स्वास्थ्य की कामनाएं करेगी. इसके बाद दशमी को दशा पूजन कर महिलाएं अपने परिवार  की दशा सुधारने का आशीर्वाद लेंगी. पर्वों का यह सीलसीला जारी रहते हुए रंगतेरस के साथ ही जारी गणगौर के झेलों से अंचल को धर्म व आस्था की बयार प्रवाहित करती नजर आएगी. 21 मार्च से आद्यशक्ति की भक्ति का पर्व याने नवरात्री महोत्सव प्रारंभ होगा जो नो दिनों तक अंचल में ऐसी धर्म आराधना का मेला लगाएगा जिसकी भक्ति में बुढ़े, जवान, बच्चे सभी रत दिखाई देगें. यही नहीं पर्वों का सीलसीला अप्रेल माह की भी अगवानी कर हनुमान जयंति से गद्गद् होगा. इस तरह माह मार्च की रंगारंग मस्ती अपने साथ आध्यात्मिक आनन्द की गंगा भी प्रवाहित करेगी. अंचल के सिद्ध एवं भक्तों की प्रमुख आराधना में शुमार आद्यशक्ति स्थलों महामाया भादवामाता, महामाया आंत्रीमाता, महामाया आंवरीमाता, महामाया भंवरमाता आदि स्थलों पर नो दिनों तक आस्था का मेला लगेगा जिसमें हजारों भक्त प्रतिदिन माँ भगवती की पूजा अर्चना कर आशीर्वाद प्राप्त करेगें.

उल्लेखनिय है की जिले के महामाया आरोग्य तीर्थ स्थल को आरोग्यता के लिये वरदान माना जाता है क्योंकी यहां आने वाले लकवा पीडि़त माँ की कृपा व बावड़ी के पानी से भले चंगे होने का आशीर्वाद प्राप्त करते है. इसी तरह महामाया आंत्रीमाता से प्राप्त होने वाले चमत्·ार भी मालवा-मेवाड़ की थाती है. जहां लोग अपनी मन्नत पूरी होने पर हंसी-खुशी  स्वयं अपने हाथ से अपनी जुबान काटकर चढ़ा देते है जो नो दिन में पुन: यथावत होकर भक्त को वाणी प्रदान कर देती है. याने देवीय कृपाओं से लबरेज यह जिला अपने इस गौरव की आराधना में कभी भी तन,मन, धन से पिछे नही रहा है और न ही रहना चाहता है. इसलिये असने पूर्व तैयारियों को अंजाम देने शुरू भी कर दिया है. इन स्थलों पर नो दिवसीय मेले का भी आयोजन होगा जिसमें भक्तों के लिये आध्यात्मिक, सांस्कृतिक, साहित्यिक आदि रंगारंग कार्यकृम भी होगें.


************************************************************************************

बॉलीवुड       कारोबार        दुनिया       खेल        इन्फो      राशिफल

************************************************************************************



पलपलइंडिया का ऐनडरोएड मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे.

खबरे पढने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने, ट्विटर और गूगल+ पर फालो भी कर सकते है.


Comments-
0

अन्य जानकारियां :

सुरुचि: इस पेज पर कुकिंग और रेसेपी के बारे में रोज़ जानिए कुछ नया

तनमन: इस पेज पर जाने सेहतमंद रहने के तरीके और जानकारियां

शैली: यह पेज देगा स्टाइल और ब्यूटीटिप्स सहित लाइफस्टाइल को नया टच

मंगलपरिणय: इस पेज पर मिलेगी विवाह से जुड़ी हर वो जानकारी जिसे आप जानना चाहेंगी

आधी दुनिया: यह पेज साझा करता है महिलाओं की जिन्दगी के हर छुए-अनछुए पहलुओं को

यात्रा: इस पेज पर जानें देश-विदेश के पर्यटन स्थलों को

वास्तुशास्त्र: यह पेज देगा खुशहाल जिन्दगी की बेहद आसान टिप्स