क्षेत्र के ग्राम बसाली में संगीतमय शिव पुराण कथा जारी है। मंगलवार को इसका छठा दिन था। साध्वी यज्ञन श्वरीदेवी गीते नर्म देश्वर धाम बाबडि या ने कहा ने कहा हमारे समाज में एक कमजोरी होती है कोई भी तीर्थ के लि ए जाते हैं तो भगवान से अपने परिवार के लि ए मांगने लगते हैं। हमारे यहां वृक्ष को भी भगवान माना है। पीपल, बड़, नीम को मि लाकर ब्रह्मा का वास माना जाता है। लेकिन कुछ लोग मंदिर और वृक्ष को देखकर आसन लगाकर बैठ जाते हैं और कुछ ना कुछ मांगने लगते हैं। मांगना ही है तो भगवान की भक्ति मानो।

धर्म-संस् कृति की रक्षा के लिए अच्छे विचार और शक्ति मांगों। साध्वीश्री ने कहा धर्म के आड़े गुरु भी अाता है तो उसे त्याग देना चाहिए। धर्म की रक्षा के लिए हमें तन,मन, धन से काम करना चाहिए। भगवान को पाने के लिए लोग तीर्थ यात्रा करते हैं। जबकि भगवान अपने मन में बैठा है। उसे पाने के लि ए बस मन को जगाने की जरूरत है। मोह-माया त्या ग कर सच्चे मन से प्रभु शि व की आराधना करना चाहि ए। वे अवश्य प्रसन्न होंगे। संसार में तीन देवता ही अजर-अमर हैं। हनुमानजी,  नर्म दा मैया और मां दुर्गा । इनकी सच्चे मन से आराधना करना चाहिए। वे प्रसन्न होकर भक्त पर कृपा बरसाते हैं।

सात दिन से चल रहा अखंड जाप - बसाली में शि व पुराण कथा 12 फरवरी से चल रही है। 18 फरवरी तक चलने वाली कथा में सात दिन से ओम भंडारे में रोजाना तीन हजार से अधि क श्रद्घालु पा रहे महाप्रसादीरहा है। इस दौरान रोजाना सुबह 7 से 8 बजे तक हवन कि या जा रहा है। 8 से 9 बजे तक आरती, 10 से दोपहर 12 बजे तक महाप्रसादी वि तरण हो रहा है। दोपहर 12 से शाम 5 बजे तक कथा हो रही है। 5 से 6 बजे तक आरती, 7 से 9 बजे तक महाप्रसादी वि तरण कि या जा रहा है। इसके बाद रात 11 से अलसुबह 5 बजे क तेजाजी कार्यक्रम के साथ ही गरबा स्पर्धा कराई जा रही है।

इसमें प्रथम पुरस्का र 7001, दूसरा 4001, तीसरा 2001, चौथा 1801, पांचवां 1701 और छठा पुरस्का र 1501 रुपए रखा गया है। बसाली में बाल संत संकल्पानद सरस्व तीजी ने 14 साल तक शि व पुराण कथा कराने का संकल्प लि या है।


************************************************************************************

बॉलीवुड       कारोबार        दुनिया       खेल        इन्फो      राशिफल

************************************************************************************



पलपलइंडिया का ऐनडरोएड मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे.

खबरे पढने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने, ट्विटर और गूगल+ पर फालो भी कर सकते है.


Comments-
0

अन्य जानकारियां :

सुरुचि: इस पेज पर कुकिंग और रेसेपी के बारे में रोज़ जानिए कुछ नया

तनमन: इस पेज पर जाने सेहतमंद रहने के तरीके और जानकारियां

शैली: यह पेज देगा स्टाइल और ब्यूटीटिप्स सहित लाइफस्टाइल को नया टच

मंगलपरिणय: इस पेज पर मिलेगी विवाह से जुड़ी हर वो जानकारी जिसे आप जानना चाहेंगी

आधी दुनिया: यह पेज साझा करता है महिलाओं की जिन्दगी के हर छुए-अनछुए पहलुओं को

यात्रा: इस पेज पर जानें देश-विदेश के पर्यटन स्थलों को

वास्तुशास्त्र: यह पेज देगा खुशहाल जिन्दगी की बेहद आसान टिप्स