बुरहानपुर . शाहपुर थाना पुलिस ने 5 पिस्टल, 4 देशी कट्टे, 2 कटार नुमा चाकू, 32 जिदा कारतूस के साथ पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनमें  कलीगर बाप-बेटा, दामाद और दो खरीदार शामिल हैं। तीनों  कलीगर सिधखेड़ा-दर्या पुर के बीच खरीदारों को हथियारों की डिलेवरी करने वाले थे लेकिन इससे पहले ही पुलिस न पांचों को धरदबोचा।  कलीगरों से एक सेंट्रो कार भी जब्त की। पुलिस ने कार्रवाई सोमवार दोपहर ग्राम सिधखेड़ा के पास की। एसपी ने मंगलवार दोपहर प्रेसवार्ता में मामले का खुलासा किया। एसपी अनिल सिह कुशवाह ने बताया पिछले कुछ दिन से जिले में हथियार बनाकर बाहर भेजे जाने की सूचना मिल रही थी। सोमवार को सूचना मिली कि इंंदौर-इच्छापुर हाईवे पर शाहपुर के पास स्थित कालूशाह बाबा की दरगाह के पास दो युवक संदिग्ध हालत में खड़े हैं। युवकों के पास अवैध हथियार हैं। इस पर एएसपी भगवत सिह बिरदे के मार्गदर्श न और शाहपुर थाना टीआई विनोद सिह कुशवाह के नेतृत्व में टीम मौके पर पहुंची। यहां घेराबंदी कर महाराष्ट्र के बीड़ जिले के ग्राम परली निवासी महादेव लक्ष्मण बंजारी और ग्राम तलेगांव निवासी नाथराव मधुकर को धरदबोचा। इनके पास से एक पिस्टल, 12 जिदा कारतूस और 2 कटारनुमा चाकू जब्त कि ए। बुरहानपुर-खकनार रोड पर दर्या पुर- सिधखेड़ा के बीच यह डिलेवरी होने वाली है। इस पर पुलिस ने सिधखेड़ा के पास गुलई फाटे पर नाकाबंदी की। खकनार की ओर जा रही सेंट्रो कार एमपी-12 सी-ए-0211 को राेककर जांच की। इसमें बैठे पाचोरी निवासी तरणसिह महेंद्र सिह पटवा, महेंद्र सिह प्रेम सिह पटवा, बलदेव सिह दातारसिह भाटिया ने भागने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने तीनों को पकड़ लिया। कार से 4 पिस्टल, 4 हाथ से बने देशी , 32 जिदा कारतूस व कारतूस बनाने का बुरादा जब्त किया। पुलिस के अनुसार महादेव बंजारी के खिलाफ उस्मानाबाद थाने में चोरी का केस दर्ज है। नाथूराव के खि लाफ वैजनाथ थाने में हत्या के प्रयास, कर्मचारियों पर हमला, मारपीट के केस दर्ज हैं। पाचोरी निवासी महेंद्र सिह खकनार थाने का सूचीबद्ध अपराधी है। बेटे तरणसिह के खिलाफ भी केस दर्ज हैं। दामाद बलदेव के खिलाफ कोई केस दर्ज नहीं है। सभी आरोपियों को पुलिस न्यायालय में पेश कर रिमांड पर लेगी। कार्रवाई में एसआई ओम प्रकाश सिह, पीएसआई नेहा संकडिया, एएसआई परसराम पटेल, प्रधान आरक्षक रामगोपाल वर्मा , राधेलाल धनवारे, अजबराव निकम, सुरेंद्रसिह राजपूत, संतोष, सावन, चतरसिह बारिया शामिल थे। टीम को उपपुलिस महानिरीक्षक निमाड़ रेंज खरगोन डीके आर्य ने पुरस्कृत करने की घोषणा की है। पुलिस से बचने के लिए सिकलीगरों ने हथियारों की तस्करी का तरीका बदल दिया है। वे गरीब आदि वासियों को एक से पांच हजार रुपए देकर हथियारों की डिलेवरी करवाते हैं। सोमवार को सिकलीगर खुद हथियारों की डिलेवरी देने पहुंचे और पुलिस के हत्थे चढ़ गए। एसपी अनिल सिह कुशवाह ने कहा काफी समय से पाचोरी में हथियार पकड़े जा रहे हैं। अब सिकलीगरों ने हथियार बेचने का तरीका बदल दिया है। पहले वह खुद हथियार बेचने जाते थे। अब हथि यारों की डिलेवरी आदि वासियों से करवा रहे है। एसपी ने बताया सिकलीगरों को अवैध हथियार बनाने से रोकने के लिए पहले भी समझाइश दी जा चुकी है। इनकी बैठक लेकर जीवन की मुख्य धारा से जोड़ने के लिए विभिन्न निर्णय लिए गए। 


************************************************************************************

बॉलीवुड       कारोबार        दुनिया       खेल        इन्फो      राशिफल

************************************************************************************



पलपलइंडिया का ऐनडरोएड मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे.

खबरे पढने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने, ट्विटर और गूगल+ पर फालो भी कर सकते है.


Comments-
0

अन्य जानकारियां :

सुरुचि: इस पेज पर कुकिंग और रेसेपी के बारे में रोज़ जानिए कुछ नया

तनमन: इस पेज पर जाने सेहतमंद रहने के तरीके और जानकारियां

शैली: यह पेज देगा स्टाइल और ब्यूटीटिप्स सहित लाइफस्टाइल को नया टच

मंगलपरिणय: इस पेज पर मिलेगी विवाह से जुड़ी हर वो जानकारी जिसे आप जानना चाहेंगी

आधी दुनिया: यह पेज साझा करता है महिलाओं की जिन्दगी के हर छुए-अनछुए पहलुओं को

यात्रा: इस पेज पर जानें देश-विदेश के पर्यटन स्थलों को

वास्तुशास्त्र: यह पेज देगा खुशहाल जिन्दगी की बेहद आसान टिप्स