बुरहानपुर. सभी रहमान वाले हैं, सभी भगवान वाले हैं। हमें गीता भी है प्यारी और हम कुरआन वाले हैं। हमारे दुश्मनों सुन लों जरा औकात में रहना, ना टकराना कभी हमसे हम हिंदुस्तान वाले हैं। लखन को दर्द हो तो अश्क रमजानी के बहते हैं। हमारे मुल्क में सब लोग यदजहदी से रहते है। मोहब्बत के इसी गुलशन को हिंदुस्तानी कहते है। हरसूद के दृष्टि हीन शायर अकबर ताज ने सर्द रात में यह कविता पढ़ी तो हर कोई देशभक्ति के रंग में डूब गया। रविवार रात 9 बजे से फव्वारा चौक पर स्व. अमित शर्मा साहित्य, कला एवं क्रीड़ा समिति द्वारा कवि सम्मेलन, मुशायरा कराया गया। यहां विभिन्न जगह से आए कवियों ने कविताएं प्रस्तुति की। फव्वारा चौक पर कवि सम्मेलन सुनने के लिए बड़ी संख्या में श्रोता उपस्थित हुए। कार्यक्रम का संचालन रमेश धुआंधार, शउर आशना ने किया। इस दौरान महापौर अनिल भोसले, निगम अध्यक्ष मनोज तारवाला, कांग्रेस शहर जिलाध्यक्ष अजयसिंह रघुवंशी, इस्माइल अंसारी, संतोष देवताले सहित बड़ी संख्या में श्रोता उपस्थित थे। भोपाल के कवि ओज यश धुरंधर ने व्यंग्य कसा। कहा अंतिम सांसें गिन रहे गिरगट को बच्चों ने पशु चिकित्सालय पहुंचाया। डॉक्टर ने कहा इसे रोग नहीं कोई बाल गोपाल, इसके सामने आ गया था केजरीवाल।


************************************************************************************

बॉलीवुड       कारोबार        दुनिया       खेल        इन्फो      राशिफल

************************************************************************************



पलपलइंडिया का ऐनडरोएड मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे.

खबरे पढने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने, ट्विटर और गूगल+ पर फालो भी कर सकते है.


Comments-
0

अन्य जानकारियां :

सुरुचि: इस पेज पर कुकिंग और रेसेपी के बारे में रोज़ जानिए कुछ नया

तनमन: इस पेज पर जाने सेहतमंद रहने के तरीके और जानकारियां

शैली: यह पेज देगा स्टाइल और ब्यूटीटिप्स सहित लाइफस्टाइल को नया टच

मंगलपरिणय: इस पेज पर मिलेगी विवाह से जुड़ी हर वो जानकारी जिसे आप जानना चाहेंगी

आधी दुनिया: यह पेज साझा करता है महिलाओं की जिन्दगी के हर छुए-अनछुए पहलुओं को

यात्रा: इस पेज पर जानें देश-विदेश के पर्यटन स्थलों को

वास्तुशास्त्र: यह पेज देगा खुशहाल जिन्दगी की बेहद आसान टिप्स