शाजापुर. एक पखवाड़े से इंदौर के निजी अस्पताल में भर्ती झोंकर के एक मरीज स्वाईन फ्लू से ग्रसित है. बीती रात जबलपुर से आई रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि की गई है. जिलें में स्वाईन फ्लू के आधा दर्जन संदिग्धों की जांच अब तक हुई है जिसमें यह पहली रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. वहीं एक झोंकर से एक और संदिग्ध मरीज उज्जैन में भर्ती है, जिसकी रिपोर्ट आना बाकी है. स्वाईन फ्लू की पुष्टि होने के बाद स्वास्थ्य विभाग अब हाई अलर्ट पर है और एक टीम झोंकर पर खास निगाह रखे हुए है.
स्वाईन फ्लू को लेकर स्वास्थ्य विभाग हाई अलर्ट पर है, बीते पंद्रह दिनों से जिले में अलग-अलग जगहों पर संदिग्ध मरीज मिलने की खबरें आ रही थीं. बीते दिनों टुंगनी सापटी में एक महिला की मौत भी हुई थी, लेकिन जांच सैंपल फैल होने से वह रहस्य बन कर रह गई है. इधर बीती रात जबलपुर से आई रिपोर्ट में झोंकर के एक व्यक्ति को स्वाईन फ्लू की पुष्टि की गई है. उक्त व्यक्ति पिछले 18 दिनों से इंदौर के एक निजी अस्पताल में वेंटिलेटर पर है. जानकारी के अनुसार उक्त व्यक्ति 18 जनवरी को एक सामूहिक समारोह में शामिल हुआ था. शाम को घर लौटने के बाद बुखार आने पर उसने उज्जैन में एक वरिष्ठ एमडी डॉक्टर को दिखाया था. यहां आराम होने के बजाए रात में तबीयत ज्यादा बिगड़ी तो उसे 21 जनवरी को इंदौर बॉम्बे हॉस्पिटल में दिखाया गया. तभी से उसे वहां वेंटिलेटर पर रखा हुआ है. शंका होने पर चिकित्सकों ने उसके सैंपल जांच हेतु जबलपुर पहुंचाए थे. जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव होने की सूचना के बाद स्वास्थ्य विभाग हाई अलर्ट पर है और झोंकर पर खास नजर रखी जा रही है. सीएमएचओ डॉ. अनुसूय्या गवली ने बताया कि झोंकर में सर्वे टीम रोजाना ही भ्रमण कर रही है. उक्त व्यक्ति के परिवार में या गांव में कहीं कोई संदिग्ध मरीज नहीं मिला है.
झोंकर का एक और मरीज संदिग्ध...
जानकारी के अनुसार गांव का ही सरफराजुद्दीन पिता गयासुद्दीन भी इसी प्रकार के लक्षण से ग्रसित है. परिजन उसे पहले शाजापुर में एक निजी अस्पताल में 3 दिन भर्ती रहा. आराम नहीं होने पर इंदौर एमवाय अस्पताल दिखाने पहुंचे थे. यहां से उसे मात्र दवाईयां देकर घर भेज दिया गया. रात में तबीयत बिगडऩे पर उसे उज्जैन के चैरिटेबल अस्पताल में भर्ती करवाया गया. यहां से उसे संदिग्ध मरीज के रूप में माधवनगर शासकीय चिकित्सालय में भेजा गया. गयासुद्दीन खान के अनुसार स्वाइन फ्लू से संबंधित जांचों के नमूने आगे भेेजे गए हैं.
अब तक 6 मरीजों की जांच...
जानकारी के अनुसार जिले में स्वाइन फ्लू के अब तक करीब 6 संदिग्ध मामले सामने आए हैं. ग्राम लाहोरी और बरनावद के 2 संदिग्ध मरीजों की रिपोर्ट जबलपुर लैब से निगेटिव आई है. ग्राम टुंगनी की 1 मृत महिला का सेंपल रिजेक्ट होने से जांच ही नहीं हो पाई है. वहीं 3 मरीजों की जांच रिपोर्ट आना बाकी है. इधर, ग्राम झोंकर में भी दो संदिग्ध मरीज सामने आए हैं.
ऐसें करें बचाव....
बीमारी के लक्षण दिखाई देने पर कुछ सावधानियां बरतने की जरूरत होती है. मरीज को खांसी आने पर रूमाल या तौलिया से मुंह ढंक लेना चाहिये. आंख, नाक और मुंह को छूने से पहले हाथों को साबुन से धोना चाहिये. मरीज से हाथ मिलाने और गले मिलने से बचना चाहिये. भीड़भाड़ से बचना चाहिये. घर में सफाई पर ध्यान देना चाहिये. साधारण लक्षण वाले मरीजों को घर पर विश्राम करना चाहिये. बच्चों को सर्दी, खांसी होने पर स्कूल नहीं भेजें. सबसे जरूरी है कि उपचार में शीघ्रता बरतना चाहिये. विलम्ब होने पर उपचार कठिन हो जाता है.
अस्ताल में बना सर्दी-जुकाम काउंटर...
स्वाईन फ्लू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए अब अस्पताल में आने वाले सर्दी-जुकाम के हर मरीज पर नजर रखी जाएगी. इसके लिए जिला अस्पताल में सर्दी-जुकाम काउंटर बनाया गया है. इसके लिए डॉक्टर रोजाना ओपीडी में आने वाले सर्दी-जुकाम-बुखार के मरीजों का डाटा इक_ा करेंगें. जो शाम को सर्दी-जुकाम काउंटर पर जमा किया जाएगा. इसमें मरीज का नाम, पता व लक्षण की पूरी जानकारी रहेगी. सीएमएचओ डॉ. गवली ने बताया कि सर्दी-जुकाम काउंटर पर जुटाए आंकड़ों से मरीज पर पूरी नजर रखी जाएगी.
निजी नर्सिंग होम्स को फिर चेतावनी...
स्वाईन फ्लू के अब तक के सभी संदिग्ध मामलों में सामने आया है कि मरीज निजी नर्सिंग होम पर उपचार के बाद इंदौर या उज्जैन रेफर किए गए हैं. जबकि स्वाईन फ्लू को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने जिले के नर्सिंग होम्स को पहले भी नोटिस जारी किए थे कि संदिग्ध मरीजों को तत्काल जिला अस्पताल पहुंचाया जाए. लेकिन बाजवूद इसके निजी नर्सिंग होम मरीजों को या तो यूं ही लटकाए रख रहे हैं या अपनी मर्जी से बाहर भेज रहे हैं. नर्सिंग होम्स की मनमानी के चलते विभाग एक अब एक और नोटिस उन्हें दिया है, जिसमें स्पष्ट रूप से चेतावनी दी गई कि किसी भी हालत में संदिग्ध मरीजों की जानकारी तत्काल स्वास्थ्य विभाग में दी जाए.
इनका कहना है ...
'झोंकर के मरीज की रिपोर्ट स्वाईन फ्लू पाजिटिव आई है. विभाग की टीम पूरे जिले में सर्वे कर रही है. झोंकर में आज भी चिकित्सकों की टीम पहुंची थी, गांव में कोई अन्य संदिग्ध मरीज नहीं मिला है.Ó - डॉ. अनुसुय्या गवली, सीएमएचओ


************************************************************************************

बॉलीवुड       कारोबार        दुनिया       खेल        इन्फो      राशिफल

************************************************************************************



पलपलइंडिया का ऐनडरोएड मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे.

खबरे पढने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने, ट्विटर और गूगल+ पर फालो भी कर सकते है.


Comments-
0

अन्य जानकारियां :

सुरुचि: इस पेज पर कुकिंग और रेसेपी के बारे में रोज़ जानिए कुछ नया

तनमन: इस पेज पर जाने सेहतमंद रहने के तरीके और जानकारियां

शैली: यह पेज देगा स्टाइल और ब्यूटीटिप्स सहित लाइफस्टाइल को नया टच

मंगलपरिणय: इस पेज पर मिलेगी विवाह से जुड़ी हर वो जानकारी जिसे आप जानना चाहेंगी

आधी दुनिया: यह पेज साझा करता है महिलाओं की जिन्दगी के हर छुए-अनछुए पहलुओं को

यात्रा: इस पेज पर जानें देश-विदेश के पर्यटन स्थलों को

वास्तुशास्त्र: यह पेज देगा खुशहाल जिन्दगी की बेहद आसान टिप्स