पल पल इंडिया ब्यूरो, बुरहानपुर. जिला अधिवक्ता संघ बुरहानपुर के पदाधिकारी एवं सदस्यो द्वारा इंदौर अधिवक्ता संघ के सदस्य अधिवक्ता को पुलिस बर्बतापूर्वक मारपीट की जाने एवं अपराधिक मामला पंजीबद्घ किये जाने के विरोध में मुयमंत्री एवं पुलिस महानिर्देश के नाम एकज्ञापन एसडीएम को सौपा गया. साथ ही सभी अधिवक्ता अपने कार्य से पृथक रहे.जिला अधिवक्ता संघ बुरहानपुर के पदाधिकारी एवं सदस्यो द्वारा मंगलवार को अपने कार्य से पृथक रहकर मुख्यमंत्री एवं पुलिस महानिरीक्षक के नाम एक ज्ञापन एसडीएम को सौपा गया. ज्ञापन में बताया गया कि अधिव ता संघ इंदौर के सदस्य अधिवक्ताओं के साथ पुलिसद्वारा बर्बतापूर्वक मारपीट की गई तथा झुठाआपराधिक प्रकरणपंजीबद्घ किया गया हैएवं आी तक दोषी पुलिसकर्मियों परकार्रवाई ही की गई है. यह घटना पूरी तरह से अमानवीय एवंनिंदनीय है. इस कृत्य कीहम घोर निंदा करते है.इस प्रकार की घटनाये न्यायालय परिसर व आते-जाते समय प्रदेशके अधिव ताओं परहमले किये जाते रहे है तथा उन हमलो मेंअधिव ता कि हत्या भी हुई है. राज्य सरकार एवं प्रशासन समुचितकार्रवाई करने में विफल रहा है. इंदौर में अधिव ताओं के साथ में की गई मारपीट एवं दोषी कर्मियों पर आी तक कोई कार्रवाई न किये जाने के विरोध में अधिवक्ता संघ प्रतिवाद दिवस के रूप में अपने न्यायालयी कार्य से विरक्त रहकर प्रतिवाह करता है तथा मुख्यमंत्री एवं पुलिस महानिर्देश से मांग करता है कि दोषी पुलिस कर्मीयों के विरूध्द तुरंत कार्रवाई की जाये एवं अधिवक्ताओं पर दर्ज प्रकरण वापस लिये जाये. उक्त ज्ञापन सौपते समय जिला अधिवक्ता संघ के असलम खान, युनुस पटेल, सोनु सोनवणे, मनोज मेहरा, संतोष देवताले आदि मौजुद थे.



Comments-
0