नई दिल्ली. कांग्रेस आज अपना घोषणा पत्र जारी करने जा रही है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और उपाध्यक्ष राहुल गांधी सहित पार्टी के कई सीनियर नेताओं की मौजूदगी में घोषणा पत्र जारी करेंगी. सूत्रों के मुताबिक, मेनिफेस्टो कमिटी के अध्यक्ष और रक्षा मंत्री ए के एंटनी मेनिफेस्टो की बारीकियों को सामने रखेंगे.

सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस निजी सेक्टर की नौकारियों में एससी और एसटी को आरक्षण दिलाने का वादा कर सकती है. इसके लिए राष्ट्रीय सहमति बनाने का प्रयास किया जाएगा. साथ ही कांग्रेस सभी नागारिकों स्वास्थ्य का अधिकार देने का भी वादा कर सकती है. पार्टी विदेशी बैंकों में जमा काला धन वापस लाने के लिए समय बद्ध योजना का खाका पेश कर सकती है.

सूत्रों के मुताबिक, देश के तमाम तबकों की आवाज सुनने के लिए खुद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी समाज के अलग-अलग तबकों से मिले. बताया जाता है कि विभिन्न पक्षों के साथ हुई व्यापक चर्चा और विचार विमर्श के बाद एंटनी की अध्यक्षता वाली कमिटी ने मेनिफेस्टो के मसौदे को 16 मार्च को हुई बैठक में लगभग अंतिम रूप दे दिया गया.

भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए नए कानून बनाने,ई गर्वनेंस के लिए देश के सभी गांवों को इंटरनेट से जोड़ने की महत्वकांक्षी योजना की भी घोषणा हो सकती है. घोषणा पत्र में उच्च शिक्षा पर राष्ट्रीय मिशन के तहत 77 नई यूनिवर्सिटीज खोलने का वादा शामिल है. यह राष्ट्रीय मिशन 99 हजार करोड़ रूपए का है.

घोषणा पत्र में युवाओं और छात्रों के लिए आयोग बनाने का वादा भी शामिल है. जम्मू कश्मीर और पूर्वोत्तर के छात्रों के साथ होने वाले भेदभाव को रोकने के लिए भी कदम उठाने का वादा किया जा सकता है. घोषणा पत्र में महिला सशक्तिकरण पर जोर रहेगा.

प्रियंका वाड्रा ने मंगलवार देर रात व्यवस्थाओं को अंतिम रूप दिया. सूत्रों के मुताबिक चुनावी घोषणा पत्र को जारी करने की तैयारियों का जायजा लेने के लिए प्रियंका गांधी मंगलवार देर रात कांग्रेस मुख्यालय पहुंची. उनके साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी थे. पार्टी ने नया नारा उछाला है, आपकी आवाज, हमारा संकल्प.

ये भी पढ़ें: कांग्रेस मुख्यालय पहुंचीं प्रियंका, घोषणा पत्र का लिया जायजा



Comments-
0