पल पल इंडिया बडवानी. वन मण्डल बड़वानी अंतर्गत परिक्षेत्र पाटी की बीट मोकट्टा के ग्राम अमलाली के पास मार्ग पर 3 नवम्बर को एक नर तेन्दुआ शावक पाया गया। तेन्दुआ शावक स्वस्थ किन्तु अपनी मॉ से बिछडा हुआ था। जिसकी आयु लगभग 1 से डेढ माह की थी । समीपस्थ वनक्षेत्र में वयस्क तेन्दुआ होने की सूचना के आधार पर शावक को उसकी मॉ तेन्दुआ से मिलाने हेतु छोड़ा गया तथा विगत 10 दिनो तक निरन्त निगरानी की गई । तेन्दुआ शावक जंगल में छोड़ने के बाद बार-बार गांव के समीप आता रहा । सम्भवतः उसकी मॉ तेन्दुआ द्वारा उसे स्वीकार नही किया गया । अंत में यह निर्णय लिया गया कि तेन्दुआ शावक को सुरक्षा की दृष्टि से उसे वन विहार भोपाल भेज दिया जाये ।

            13 नवम्बर को नर तेन्दुआ शावक को वन अमले एवं पशु चिकित्सक की देखरेख में नेशनल पार्क, वन विहार भोपाल भेजा गया । नर तेन्दुआ शावक पूर्णतः स्वस्थ है तथा नेशनल पार्क, वन विहार भोपाल में एक और तेन्दुए की वृद्धि हुई है ।

            इस सम्पूर्ण 10 दिनो की रेस्क्यू कार्यवाही में मुख्य वन संरक्षक खण्डवा वृत्त पंकज श्रीवास्तव के कुशल नेतृत्व में वन मण्डल अधिकारी बड़वानी विक्रमसिंह परिहार द्वारा मौके पर की गई। तेन्दुआ शावक को बचाने में उप वन मण्डल अधिकारी एमएल नांदले, वन परिक्षेत्र अधिकारी पाटी चित्रकसिंह सोलंकी, परिक्षेत्र सहायक बिजासन सुभाष पाटील, बीटगार्ड मोरकट्टा नासिर खान, बीटगार्ड कुली प्रवीण भावसार, बीटगार्ड नलती रामेश्वर बागुल का योगदान सराहनीय रहा ।